समाचार प्लस
Breaking फीचर्ड न्यूज़ स्लाइडर बिहार

आतंकवाद-माफिया गठजोड़ पर NIA  का वार, बिहार, यूपी, दिल्ली, पंजाब, हरियाणा, राजस्थान समेत कई राज्यों में आतंक से आर-पार

NIA's attack on terrorism-mafia nexus, many states crossed with terror

न्यूज डेस्क/ समाचार प्लस – झारखंड-बिहार

हाल के दिनों में जम्मू-कश्मीर समेत दूसरे राज्यों में आतंक और उससे जुड़ी वारदातें काफी बढ़ी हैं। आतंकवाद का समर्थन करने वाली इकाइयों पर नकेल कसने के लिए राष्ट्रीय जांच एजेंसी (NIA) ने बिहार के फुलवरियाशरीफ, उत्तर प्रदेश, पंजाब, हरियाणा, राजस्थान और दिल्ली-राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र में बड़ी छापेमारी की है। एनआईए की यह छापेमारी ने आतंकवाद, आतंकवाद से गठजोड़ करने वाले गैंगस्टर और ड्रग तस्कर आदि पर नकेल कसने के लिए की गयी है।

छापेमारी की सबसे पहली खबर बिहार से आयी। बिहार के दानापुर के फुलवारीशरीफ में पीएफआई से जुड़े ठिकानों पर एनआईए ने छापेमारी की है। यह छापेमारी खानकाह मुहल्ले में की गयी है। यहां बासारत करीम और मरगूब दानिस के घर में छापेमारी की गयी है। पीएफआई वह संगठन है जो देश के कई राज्यों में फैला हुआ है और आतंकी तथा असामाजिक गतिविधियों में संलिप्त रहता है।

बता दें, हाल के दिनों में आतंकवाद और उससे जुड़ी घटनाओं में काफी बढ़ोतरी हुई है। मंगलवार को जम्मू-कश्मीर में आतंकियों ने टारगेट किलिंग में उत्तर प्रदेश के दो मजदूरों को मार डाला है। आतंकियों ने सोमवार को भी एक कश्मीरी पंडित की हत्या की थी। दो दिनों पहले सुरक्षा बलों ने आतंकियों के पुलवामा जैसी वारदात की सम्भावना को टाला था। बता दें, आतंकियों ने सुरक्षा बलों के रास्ते में 16 किलो IED प्लांट कर बड़े हमले की तैयारी कर रखी थी, जिसे सुरक्षा बलों ने नाकाम कर दिया था। जम्मू-कश्मीर, पंजाब और राजस्थान के रास्ते पाकिस्तान ड्रोन के माध्यम से आपत्तिजनक सामग्रियों की सप्लाई में लगा रहता है। बता दें पिछले नौ महीनों में 191 अवैध ड्रोन भारतीय सीमा में घुसे हैं। जिनमें कई ड्रोन को सुरक्षा बलों ने अपना निशाना बनाया है। पीएफआई जैसे संगठन भी देश के अंदर खतरनाक हरकतें करते रहते हैं। विदेशों से मिले धम का इस्तेमाल से देश को सुलगाने में करते हैं। आतंकवादी संगठनों के साथ पड़ोसी देश पाकिस्तान से भी इनकी खूब साठगांठ रहती है। पीएफआई के ठिकानों पर एनआईए पहले भी छापेमारी कर चुकी है। आज भी पीएफआई के ठिकानों पर एनआईए की छापेमारी हुई है।

यह भी पढ़ें: BCCI के 36वें अध्यक्ष के लिए रोजर बिन्नी के नाम पर लगेगी मुहर, गांगुली क्या बनेंगे आईसीसी चेयरमैन?

Related posts

Saraikela: पुलिस हिरासत में नाबालिग की मौत मामले में थाना प्रभारी निलंबित, लड़के ने बेल्ट के सहारे लगा ली थी फांसी

Manoj Singh

Jharkhand: सीएम हेमंत समय विस्तार मिलेगा या नहीं, तय करेगा ईडी हेडक्वार्टर

Pramod Kumar

Justice: 16 साल बाद वाराणसी सीरियल ब्लास्ट में मारे गये 18 लोगों को मिला न्याय, आतंकी वलीउल्लाह को सजा-ए-मौत

Pramod Kumar