समाचार प्लस
Breaking झारखण्ड फीचर्ड न्यूज़ स्लाइडर राँची

CM हेमंत सोरेन से NHA के CEO आरएस शर्मा ने की मुलाकात, कहा- आयुष्मान भारत योजना का रांची मॉडल देश भर में किया जाएगा लागू

NHA CEO MEETS CM

न्यूज़ डेस्क/ समाचार प्लस झारखंड -बिहार

राष्ट्रीय स्वास्थ्य प्राधिकरण (NHA)के सीईओ (CEO) आरएस शर्मा बुधवार को आयुष्मान योजना के कामों की निरीक्षण के लिए रांची पहुंचे थे। इसी क्रम में CM हेमंत सोरेन से गुरुवार को उन्होंने झारखंड मंत्रालय में मुलाकात की। मुख्यमंत्री से यह उनकी शिष्टाचार भेंट थी। आरएस शर्मा बुधवार को झारखंड दौरे पर रांची पहुंचे हैं। बुधवार को उन्होंने झारखंड के अधिकारियों के साथ बैठक कर योजना से संबंधित कई निर्देश दिए।

“अब पहले से भी अनाथ हुए बच्चों को भी इस लाभ के दायरे में लाया जाएगा”

उन्होंने बताया कि आयुष्मान योजना को बेहतर बनाने की दिशा में काम किया जा रहा है, ताकि राज्य के लाभुकों को अस्पतालों में बेहतर इलाज की सुविधा मिल सके। इसमें अनाथ बच्चों को भी अब आयुष्मान भारत योजना के लाभ से जोडऩे की तैयारी शुरू कर दी गई है।लेकिन अब पहले से भी अनाथ हुए बच्चों को भी इस लाभ के दायरे में लाया जाएगा, इससे राज्य के सभी अनाथ बच्चों का संपूर्ण इलाज इस योजना के माध्यम से हो सकेगा।

रांची का मॉडल देशभर में लागू किया जाएगा

रांची दौरे पर आए आरएस शर्मा ने इस संबंध में संबंधित पदाधिकारियों को दिशा-निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि इस योजना से इस वर्ग को भी लाभ मिलना चाहिए। उन्होंने आयुष्मान योजना के तहत इलाज में रांची की तारीफ करते हुए कहा कि रांची का मॉडल देशभर में लागू किया जाएगा। रांची ने इस संदर्भ में मिसाल कायम की है।

“पश्चिम बंगाल और ओडिसा के अस्पतालों को लाने की योजना बनाई जा रही”

उन्होंने बताया कि उन राज्यों के अस्पतालों को भी आयुष्मान योजना से जोड़ा जाएगा, जिनके यहां यह योजना लागू नहीं हो पाई है। इसमें पड़ोसी राज्य में से पश्चिम बंगाल और ओडिसा के अस्पतालों को लाने की योजना बनाई जा रही है। इसे लेकर आरएस शर्मा ने झारखंड आरोग्य सोसाइटी के कार्यकारी निदेशक भुवनेश प्रताप सिंह को गाइडलाइन का मुआयना करने को कहा है। उन्होंने बताया कि बंगाल इलाज के मामले में हब है, यहां पर इस योजना के अंतर्गत अस्पतालों को जोड़ा जा सकता है जिससे यहां के लाभुकों को वहां भी बेहतर इलाज की सुविधा मिल सकेगी।

सदर अस्पताल, रानी चिल्ड्रेन हॉस्पिटल और रातू सीएचसी का किया दौरा

मौके पर स्वास्थ्य विभाग के प्रधान सचिव अरुण कुमार सिंह, झारखंड आरोग्य सोसाइटी के कार्यकारी निदेशक भुवनेश प्रताप सिंह, रांची सिविल सर्जन डा विनोद कुमार, डा बीवी प्रसाद सहित अन्य मौजूद थे। उन्होंने सदर अस्पताल, रानी चिल्ड्रेन हॉस्पिटल और रातू सीएचसी का दौरा कर योजना की स्थिति को जाना।

ये भी पढ़ें : Jharkhand: CM Hemant Soren का सख्त निर्देश, सभी विभागों को तेज करनी होगी नियुक्ति प्रक्रिया

 

Related posts

Bihar Politics Takes Unique Turn ; घर से बेदखल हुए तेजप्रताप

Manoj Singh

Major Dhyanchand राजनीति नहीं, सम्मान के हकदार, ‘Bharat Ratna’ न दिये जाने का भूल-सुधार जरूरी

Sumeet Roy

Gold medal के बाद Neeraj Chopra पर अब करोड़ों के इनाम की बारिश

Sumeet Roy