समाचार प्लस
Breaking फीचर्ड न्यूज़ स्लाइडर बिहार

पंचायत चुनाव लड़ सकती हैं बिहार में ब्याही नेपाल की बेटियां, लेकिन आरक्षण लाभ नहीं

पंचायत चुनाव लड़ सकती हैं बिहार में ब्याही नेपाल की बेटियां, लेकिन आरक्षण लाभ नहीं

नेपाल में पैदा हुई और बिहार में ब्याही गई महिलाएं त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव में आरक्षण की दावेदारी नहीं कर सकेंगी। राज्य निर्वाचन आयोग ने साफ कर दिया है कि जिन महिलाओं के पिता का घर नेपाल में है, लेकिन उनका विवाह नेपाल से सटे बिहार के किसी भी जिले में हुआ है, उन्हें चुनाव में आरक्षण का लाभ नहीं मिलेगा। चुनाव आयोग की गाइडलाइन के मुताबिक नेपाल की जिन बेटियों का विवाह बिहार में हुआ है और जिन्होंने भारत की नागरिकता ले ली है, वो पंचायत चुनाव लड़ सकती हैं.

 नहीं मिलेगा जातिगत आरक्षण का लाभ

बिहार में हो रहे पंचायत के चुनाव में नेपाल की वो बेटियां भी चुनाव लड़ सकती हैं जिनका विवाह बिहार में हुआ है और उसे भारत की नागरिकता मिल चुकी हो. हालांकि, साथ ही ये भी है कि बिहार में ब्याही नेपाल की बेटी को जातीय आधार पर आरक्षण का लाभ नहीं मिलेगा. बिहार में महिलाओं के लिए लागू 50 फीसदी आरक्षण का लाभ उन्हें भी मिलेगा.

निर्वाचन अधिकारियों ने सरकार से  स्पष्ट करने के लिए कहा था

बिहार में पंचायत चुनाव के ऐलान के बाद जिलों के निर्वाचन अधिकारियों ने सरकार से ये स्पष्ट करने के लिए कहा था कि वैसी महिला जिसका पैतृक गांव घर नेपाल में है वो बिहार में पंचायत चुनाव लड़ सकती है या नहीं और अगर लड़ सकती है तो उसे आरक्षण का लाभ मिलेगा या नहीं .

आयोग ने जारी किए ये दिशा-निर्देश

इसके बाद निर्वाचन आयोग ने दिशा-निर्देश जारी किया है. आयोग की गाइडलाइन के मुताबिक नेपाल की बेटी का विवाह बिहार में हुआ है और उसने भारत की नागरिकता ले ली है, वो पंचायत चुनाव लड़ सकती है. आरक्षण का सवाल है तो बेटी की जाति का निर्धारण उसके पिता की जाति से होता है ना कि पति की जाति से.

 बिहार में 10 चरणों मे पंचायत के चुनाव होने हैं

चुनाव आयोग के मुताबिक नेपाल से जारी जाति प्रमाण पत्र पर आरक्षण का दावा नहीं कर सकती. हालांकि, उसे महिला आरक्षण का लाभ जरूर मिलेगा. आयोग ने पटना हाईकोर्ट के एक आदेश का हवाला भी दिया. बिहार के पंचायत चुनाव में महिला आरक्षण के साथ साथ अनुसूचित जाति/जनजाति और पिछड़े वर्ग को भी आरक्षण का लाभ मिलता है. नेपाल की महिलाओं को ये भी लाभ मिल सकता है बशर्ते नेपाल और बिहार की जाति वर्गीकरण में समानता हो. बिहार में 10 चरणों मे पंचायत के चुनाव होने हैं जिसके लिए अधिसूचना 24 अगस्त को जारी होगी.

ये भी पढ़ें :

Related posts

Petrol Diesel Price Hike: हर दिन बढ़ रही पेट्रोल-डीजल की कीमतें, केंद्रीय मंत्री का इशारा, नहीं घटेंगे दाम

Sumeet Roy

IBPS PO Recruitment 2021 : आईबीपीएस 4000 से अधिक पदों पर PO भर्ती का नोटिफिकेशन जारी, 4135 वैकेंसी, देखें डिटेल्स

Manoj Singh

T20 World Cup: रोहित शर्मा और राहुल ही करेंगे अफगानिस्तान के खिलाफ ओपन, ऐसी होगी टीम इंडिया

Pramod Kumar

Leave a Comment

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.