समाचार प्लस
Breaking Uncategories फीचर्ड न्यूज़ स्लाइडर बिहार

Nasha Mukti Diwas के दिन साढ़े तीन लाख कर्मचारियों ने खाई सौगंध, सीएम नीतीश ने शराब नहीं पीने और पिलाने की दिलाई शपथ

Nasha Mukti Diwas

Nasha Mukti Diwas के अवसर पर बिहार में शराबबंदी को सफल बनाने के लिए मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने सरकारी अधिकारियों और कर्मचारियों को आजीवन शराब नहीं पीने और दूसरों को भी शराब का सेवन नहीं करने के लिए प्रेरित करने की सपथ दिलाई है. बिहार में 2016 से शराब पीना पिलाना और शराब का उत्पादन करना गैरकानूनी है.

Nasha Mukti Diwas के दिन आज बिहार में शराबबंदी को लेकर सबसे बड़ी शपथ ली गई. राज्य सरकार के साढ़े तीन लाख से अधिक कर्मी को शुक्रवार को शराब नहीं पीने की शपथ मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने दिलाई. सीएम ने खुद भी शपथ लेकर शराब के सेवन नहीं करने की शपथ ली है.

नशा मुक्ति दिवस के दिन शपथ ग्रहण

शुक्रवार को सभी राज्य सरकार के कर्मचारी और अफसरों ने अपने-अपने सरकारी कार्यालयों में इसकी शपथ ली. सभी ने इससे जुड़े शपथ-पत्र भी भरा और अपने हस्ताक्षर किए. इसकी प्रति डीएम के माध्यम से सभी मुख्यालय तक जाएगी. नशा मुक्ति दिवस के आयोजन के दिन यह चर्चा भी की गई की गांधीजी ने किस तरह हमेशा शराब का विरोध किया था.चर्चा में बताया गया कि शराब आदमियों से न सिर्फ उसका पैसा छीन लेती है, बल्कि उनकी वृद्धि भी खत्म कर देती है. शराब पीने से परिवार की शांति समाप्त हो जाती है. चर्चा में ये भी कहा गया कि शराब पीने वाला इंसान हैवान हो जाता है. गांधीजी ने कहा था कि यदि मुझे एक घंटे के लिए भारत का तानाशाह बना दिया जाए तो मैं सबसे पहले शराब की सभी दुकानों को बिना क्षतिपूर्ति के बंद कर दूंगा.

पटना के ज्ञान भवन में कार्यक्रम आयोजित

शपथ ग्रहण कार्यक्रम से पहले पटना के ज्ञान भवन में कई कार्यक्रम भी आयोजित किए गए. साथ ही नशामुक्ति की मुहिम में मद्यनिषेध प्रचार-प्रसार अभियान रथ को भी हरी झंडी दिखाकर रवाना किया. शपथ ग्रहण कार्यक्रम राज्य मुख्यालय से लेकर जिला, प्रखंड और पंचायत स्तर पर आयोजित किया गया. जिसमें सरकारी कर्मचारी और अधिकारियों ने शराब नहीं पीने की शपथ ली.कार्यक्रम में मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के अलावा उप मुख्यमंत्री तारकिशोर प्रसाद व रेणु देवी की विशेष उपस्थिति थी.  इससे पहले 2018 में भी सरकारी कर्मचारियों और अधिकारियों ने  शराब न पीने की शपथ ली थी.

इसे भी पढ़ें : Mumbai Attack 26/11: अमर शहीद तुकाराम ओंबले जिनकी वजह से जिंदा पकड़ा गया था पाकिस्तानी आतंकवादी कसाब

Related posts

माही की गद्दी संभालने आया झारखंड का एक और लाल, जन्मदिन पर ईशान किशन की One Day Entry

Manoj Singh

SBI PO Recruitment 2021 : SBI में PO के 2056 पदों पर भर्तियां, जानें योग्यता, चयन समेत खास बातें

Manoj Singh

Jamshedpur: अधिग्रहण करार के बाद भी इस्तेमाल नहीं की जा रही भूमि रैयत को वापस करने का आदेश

Pramod Kumar

Leave a Comment

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.