समाचार प्लस
Breaking देश फीचर्ड न्यूज़ स्लाइडर स्वास्थ्य

कोरोना के बाद Monkeypox Virus फैलने का खतरा! ICMR ने जारी किया अलर्ट

image source : social media

Monkeypox Virus Alert: कोरोना का खतरा अभी टला नहीं है. पूरी दुनिया अब भी इससे लड़ रही है. यह वायरस चीन में अब भी तबाही मचा रहा है. कोरोना वायरस (Coronavirus) के बाद दुनियाभर में अब मंकीपॉक्स (Monkeypox virus) का खतरा मंडरा रहा है. विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) का कहना है कि मंकीपॉक्स वायरस 21 से अधिक देशों में फैल गया है, अब तक इसके 200 से ज्यादा मामलों की पुष्टि हो चुकी है. अब इसे लेकर भारत में भी इंडियन काउंसिल ऑफ मेडिकल रिसर्च (ICMR) ने चेतावनी जारी की है.

सरकार संक्रमण को लेकर हाई अलर्ट पर

ICMR का कहना है कि छोटे बच्चों को इस बीमारी का खतरा ज्यादा है, जिसके चलते इसके लक्षणों पर नजर रखनी होगी. फिलहाल भारत में मंकीपॉक्स के एक भी मामले की पुष्टि नहीं हुई है, लेकिन सरकार इस संक्रमण को लेकर हाई अलर्ट पर है. अब तक 21 देशों में मंकीपॉक्स के 226 मामलों की पुष्टि हो चुकी है. WHO ने शुक्रवार को कहा कि लगभग 100 संदिग्ध मरीज ऐसे देशों से रिपोर्ट किए गए हैं, जहां मंकीपॉक्स आमतौर पर नहीं पाया जाता है.

image source : social media
image source : social media

सरकार ने जारी किया अलर्ट

मंकीपॉक्स संक्रमण को देखते हुए केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने सभी राज्यों को सलाह दी है कि वे अस्पतालों को इस रोग के लक्षण वाले उन मरीजों पर नजर रखने का निर्देश दें जो हाल में मंकीपॉक्स से संक्रमित देशों की यात्रा कर चुके हैं. स्वास्थ्य मंत्रालय ने ऐसे मरीजों को क्वारंटाइन में रखने के लिए कहा है. सूत्रों के अनुसार, अब तक केवल एक शख्स को मंकीपॉक्स संक्रमण के लक्षण होने पर क्वारंटाइन में रखा गया था, जिसने कनाडा की यात्रा की थी.

कई देशों में सामने आ रहे हैं केस

मंकीपॉक्स का पहला मामला ब्रिटेन में 7 मई को सामने आया था. ब्रिटेन, इटली, पुर्तगाल, स्पेन, कनाडा और अमेरिका से मंकीपॉक्स के मामले सामने आए हैं. कोरोना वायरस (Coronavirus) के बाद दुनियाभर में अब मंकीपॉक्स (Monkeypox virus) का खतरा मंडरा रहा है

क्या है मंकीपॉक्स?

डब्ल्यूएचओ के मुताबिक, मंकीपॉक्स जानवरों से इंसानों में फैलने वाली एक संक्रामक बीमारी है. ये बीमारी अक्सर मध्य और पश्चिमी अफ्रीकी देशों में फैलती है और यहीं से दूसरे हिस्सों में भी फैलती है. ये बीमारी संक्रमित जानवर से सीधे संपर्क में आने से फैल सकती है. इस बीमारी में भी स्मॉलपॉक्स यानी चेचक की तरह ही लक्षण होते हैं.

मंकीपॉक्स वायरस से संक्रमण के ये हैं लक्षण

प्रारंभिक लक्षणों में बुखार, सिरदर्द, मांसपेशियों में दर्द, पीठ दर्द, ठंड लगना और थकावट शामिल हैं. चेहरे पर दाने हो सकते हैं जो शरीर के अन्य भागों में फैल जाते हैं. ये दाने बाद में पपड़ी में बदल जाते हैं जो बाद में खुद गिर जाते हैं.

कैसे फैलता है मंकीपॉक्स वायरस

मंकीपॉक्स वायरस तब फैल सकता है जब कोई संक्रमित व्यक्ति के संपर्क में हो. वायरस नाक, आंख या मुंह के के जरिए शरीर में प्रवेश कर सकता है.

ये भी पढ़ें :दिव्यांग बच्चे को फ्लाइट में चढ़ने से रोक था Indigo ने, DGCA ने ठोंका 5 लाख का जुर्माना

Related posts

Jharkhand Cabinet की बैठक में 63 प्रस्तावों पर लगी मुहर, जानिए किन अजेंडों को मिली स्वीकृति

Sumeet Roy

पेट्रोल पर वैट कम नहीं करने वाले राज्यों को पीएम ने सुनाई खरी-खरी, झारखंड ने भी नहीं घटाया है वैट

Pramod Kumar

जमशेदपुर नगर विकास विभाग का प्रयास, कुष्ठ रोगियों को मिल सके बिना पैसा खर्च किये आवास

Pramod Kumar