समाचार प्लस
Breaking देश फीचर्ड न्यूज़ स्लाइडर

भगवंत मान का ऐसा पलटवार, राहुल गांधी वर्षों रखेंगे याद, ‘लोकतंत्र’ के सवाल पर दे दिया तगड़ा जवाब

Mann's counterattack, Rahul will remember for years, a strong answer to the question of 'democracy'

न्यूज डेस्क/ समाचार प्लस – झारखंड-बिहार

कांग्रेस लीडर राहुल गांधी को पंजाब के मुख्यमंत्री भगवंत मान ने ऐसा जवाब दिया है जिसकी उन्होंने कल्पना तक नहीं की होगी। जवाब भी ऐसा की तिलमिला जाने के सिवाय कुछ नहीं किया जा सकता। पंजाब के सीएम ने राहुल गांधी को कुछ भी कहने से पहले अपनी गिरेबान में झांकने लेने तक की सलाह दे डाली। दरअसल, एक जनसभा में राहुल गांधी ने पंजाब को रिमोट से चलने वाली सरकार बता दिया और कहा कि पंजाब को पंजाब से चलना चाहिए न कि दिल्ली से। भगवंत मान खुद पंजाब को चलाएं। इसी पर भगवंत मान ने जोरदार पलटवार किया।

राहुल गांधी की भारत जोड़ो यात्रा जब पंजाब पहुंची तो एक जनमसभा को उन्होंने सम्बोधित किया। उसी में उन्होंने पंजाब सरकार और आम आदमी पार्टी के मुखिया अरविंद केजरीवाल को आड़े हाथों लिया। उन्होंने पंजाब के सीएम को सलाह दी थी कि वह ‘रिमोट कंट्रोल’ से न चलें। पंजाब को पंजाब से चलाया जाना चाहिए. इसे दिल्ली से नहीं चलाया जाना चाहिए। राहुल गांधी के कहने का तात्पर्य था कि पंजाब सरकार आप प्रमुख अरविन्द केजरीवाल के द्वारा चलायी जा रही है।

‘मुझे तो जनता ने मुख्यमंत्री बनाया, चन्नी को किसने बनाया था’

राहुल गांधी के बयान पर अरविन्द केजरीवाल को तो जवाब नहीं आया, लेकिन मुख्यमंत्री मान ने जरूर पलटवार किया है। शायद उन्होंने राहुल गांधी को यह जतला दिया कि हमला मुझ पर किया है तो जवाब भी मुझसे सुनें। उन्होंने कहा राहुल गांधी को लोकतंत्र या लोकतांत्रिक मर्यादा पर कुछ भी कहने का नैतिक अधिकार नहीं है। क्योंकि कांग्रेस तो लोकतंत्र की हमेशा हत्या करती रही है। राहुल गांधी अगर मेरी बात कह रहे हैं तो मुझे तो पंजाब के लोगों ने मुख्यमंत्री चुना है। चरणजीत सिंह चन्नी को किसने मुख्यमंत्री बनाया था। चन्नी को तो आपने ही ने मुख्यमंत्री बनाया था, वह भी दो मिनट में।

राहुल गांधी के ज्ञान पर उठाया सवाल

भगवंत मान ने राहुल गांधी से कहा कि अधूरी जानकारी हमेशा खतरनाक होती है। उन्होंने राहुल गांधी को याद दिलाया कि उनकी पार्टी कैसे मुख्यमंत्रियों को कठपुतलियों की तरह नचाकर लोकतंत्र का मजाक बनाती है। उन्हें लोकतंत्र के इस मुद्दे पर कोई भी बयान देने से पहले अपने गिरेबान में जरूर झांकना चाहिए।

कैप्टन अमरिंदर सिंह का अपमान भी याद दिलाया

मुख्यमंत्री मान ने एक साल पहले कैप्टन अमरिन्दर सिंह को मुख्यमंत्री के पद से उनको जलील किये जाने की घटना भी याद दिलाई। कांग्रेस की यात्रा के दौरान राज्यों के कांग्रेस प्रमुखों को धक्के दिये जाने का भी स्मरण कराया। भगवंत मान ने तो सबसे बड़ी बात यह कही कि कांग्रेसी नेता (राहुल) भूल गए हैं कि उनके परिवार के हाथ तो लोकतंत्र के कत्ल से रंगे हुए हैं और लोग उनको इस गुनाह के लिए कभी माफ नहीं करेंगे।

यह भी पढ़ें: Jharkhand: पहले इरफान, फिर राजेश और कोंगाड़ी, ईडी कार्यालय नहीं पहुंची किसी की गाड़ी

Related posts

Jharkhand: गृहमंत्री शाह की सुरक्षा में चूक, हाई सिक्युरिटी जोन में हुई चाकूबाजी, एक घायल

Pramod Kumar

आपसी विवाद में पति पत्नी ने खाया जहर, महिला के मायके वालों ने पति पर लगाया मारपीट कर जहर खिलाने का आरोप

Sumeet Roy

Dhanbad BJP Protest: बीजेपी नेता और विधायक धरने पर तो वहीं सत्तारूढ़ दल जेएमएम कांग्रेस ने प्रदर्शन कर केंद्रीय ऊर्जा मंत्री का फूंका पुतला

Sumeet Roy