समाचार प्लस
Breaking देश फीचर्ड न्यूज़ स्लाइडर

इमरान के ‘दोस्त’ के सलाहकार मलविंदर सिंह माली ने कश्मीर को बताया अलग देश

मलविंदर सिंह माली ने कश्मीर को बताया अलग देश

पंजाब कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष नवजोत सिंह सिद्धू के सलाहकार मलविंदर सिंह माली का बयान सुर्खियों में है। माली ने अपने Facebook Post में दावा किया है कि कश्मीर अलग देश था। भारत और पाकिस्तान ने उस पर कब्जा कर लिाया है। कश्मीर, कश्मीर के लोगों का है। चूंकि बयान एक कांग्रेस नेता का है, लेकिन पार्टी या पार्टी के किसी बड़े नेता ने इस बयान पर अपनी प्रतिक्रिया नहीं दी है। यहां तक कि पंजाब कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष सिद्धू भी मौन हैं। इस पर विपक्ष ने सवाल किया है कि क्या यह मान लिया जाये कि यह बयान कांग्रेस का भी है?

सिद्धू के सलाहकार मलविंदर सिंह माली इससे पहले भी मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह पर तनाव फैलाने का आरोप लगा चुके हैं। अमरिंदर सिंह पर माली द्वारा कोई आरोप लगाना कोई अचरज वाली बात नहीं हो सकती है, क्योंकि माली नवजोत सिंह सिद्धू के सलाहकार हैं, और सिद्धू अमरिंदर सिंह के धुर विरोधी। लेकिन जब मामला देश का हो तब बयान क्या देना चाहिए इतनी समझ तो सबको होनी चाहिए। माली के इस बयान के बाद विपक्ष ने उन्हें आड़े हाथों लिया है। अकाली दल के नेता बिक्रम मजीठिया ने माली के इस बयान को शहीदों के परिवारों का अपमान बताया है।

राहुल गांधी सामने आकर बतायें अपनी राय – बिक्रम मजीठिया

माली के बयान पर मजीठिया ने कहा कि राहुल गांधी को सामने आना चाहिए. और इस पर अपनी राय बतानी चाहिए। अगर वह भी ऐसा ही मानते हैं तब तो कांग्रेस का असली चेहरा लोगों के सामने आ जाएगा। अगर ऐसा नहीं मानते हैं तो सिद्धू के खिलाफ क्या एक्शन लेंगे वह बताएं। उन्होंने कहा कि यह कांग्रेस की कैसी नीति है कि एक तरफ उनका एक नेता (अमरिंदर सिंह) पाकिस्तान पर पंजाब में अशांति फैलाने का आरोप लगाता है, वहीं दूसरी नेता (नवजोत सिंह सिद्धू) पाकिस्तान के आर्मी चीफ के गले लगते नजर आता है। मजीठिया ने कहा कि लगता है पाकिस्तान और कांग्रेस का बर्ताव एक जैसा है।

सिद्धू की नहीं आयी अब तक कोई प्रतिक्रिया

पाकिस्तानी प्रधानमंत्री इमरान खान के ‘खास दोस्त’ माने जाने वाले नवजोत सिंह सिद्धू ने माली के बयान के बाद अब तक कोई प्रतिक्रिया नहीं दी है। वैसे प्रतिक्रिया तो मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह की ओर से भी नहीं आयी है। परन्तु अमरिंदर सिंह के करीबी और पंजाब सरकार के प्रवक्ता राजकुमार वरका ने माली को नफरत ना फैलाने की सलाह दी है। उन्होंने कहा कि कश्मीर का मुद्दा संवेदनशील है। किसी को भी इस मामले में ऐसे कमेंट से बचना चाहिए। माली इससे पहले भी मुख्यमंत्री अमरिंदर पर भी पंजाब में तनाव फैलाने का आरोप लगा चुके  हैं।

यह भी पढ़ें: World Photograph Day: एक फोटो और ‘पुलित्जर विजेता’ केविन कार्टर ने कर ली आत्महत्या

Related posts

पुलिस की मुखबिरी के आरोप में जमुई में माओवादियों ने की पिता-पुत्र की हत्या

Pramod Kumar

Ranchi: मुख्यमंत्री हेमंत ने सदर में आक्सीजन प्लांट और रिम्स में कोबास मशीन का किया उद्घाटन

Pramod Kumar

काजोल की बहन तनीषा का येलो बिकिनी में हॉट अवतार, हुस्न की बिजली से घायल हुए लोग

Manoj Singh

Leave a Comment

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.