समाचार प्लस
Breaking देश फीचर्ड न्यूज़ स्लाइडर

Mahashivratri: महाराष्ट्र में बहती है शिवभक्ति की सबसे बड़ी गंगा, देश में हैं द्वादश ज्योतिर्लिंग, महाराष्ट्र में ही पांच

Mahashivratri: There are twelfth Jyotirlinga in the country, only five in Maharashtra

न्यूज डेस्क/ समाचार प्लस – झारखंड-बिहार

आज महाशिवरात्रि है। देश देवों के देव महादेव की भक्ति में डूबा है। महादेव की भक्ति की बात ही निराली है। देश में जितने ज्योतिर्लिंग, सबकी अपनी-अपनी महत्ता। पुराणों के अनुसार शिव की आराधना से मनुष्य की सारी मनोकामनाएं पूर्ण होती हैं। शिव पुराण में बारह ज्योतिर्लिंग की महिमा बताई गई है। ये बारह ज्योतिर्लिंग भारतवर्ष में विभिन्न स्थानों पर भक्तों को दर्शन देने के लिए प्रकट हुए हैं। झारखंड के बाबा वैद्यनाथ धाम का रावणेश्वर ज्योतिर्लिंग अपनी अलग पहचान रखता है। काशी का विश्वप्रसिद्ध बाबा विश्वनाथ की अपनी अलग ही चर्चा है। उज्जैन का महाकाल का मंदिर दुनिया में सबसे चर्चित ज्योतिर्लिंग में गिना जाता है। गुजरात का सोमनाथ मंदिर अपनी अलग ही पहचान रखता है। ये सभी देश के द्वादश ज्योतिर्लिंगों में से ही हैं। लेकिन महाराष्ट्र की बात सबसे अलग है। महाराष्ट्र अपने शिव भक्ति की गंगा कुछ ज्यादा ही बहती है, क्योंकि यहां एक, दो नहीं, बल्कि पांच ज्योतिर्लिंग हैं।

  1. परली वैजनाथ, बीड
  2. औंढा नागनाथ, परभणी
  3. घृष्णेश्वर, औरंगाबाद
  4. भीमाशंकर, पुणे
  5. त्र्यंबकेश्वर, नासिक

यह भी पढ़ें: Mahashivratri 2022: महाशिवरात्रि का महापर्व आज, जानें शुभ मुहूर्त और पूजा विधि

Related posts

Video: हम बने तुम बने एक दूजे के लिए…,Ranveer Singh के साथ Ravi Shastri ने मचाया धमाल, देखें लटके झटके डांस की तगड़ी झलक

Manoj Singh

IPL 2021 CSK vs DC: चेन्नई सुपरकिंग्स की जीत के लिए प्रार्थना करती दिखी धोनी की लाडली जिवा, फोटो वायरल

Manoj Singh

संकट : तंत्र-मंत्र और अंधविश्वास का शिकार बन खत्म हो रहे उल्लू

Manoj Singh