समाचार प्लस
Breaking देश फीचर्ड न्यूज़ स्लाइडर

Maharashtra: उद्धव ठाकरे को एक और तगड़ा झटका, 16 विधायकों की सदस्यता पर संकट!

Maharashtra: Another major setback for Uddhav, crisis on the membership of 16 MLAs!

सीएम शिंदे आज साबित करेंगे विश्वासमत

न्यूज डेस्क/ समाचार प्लस – झारखंड-बिहार

एकनाथ शिंदे जब से महाराष्ट्र के सीएम बने हैं उनके सभी दांव सटीक पड़ रहे हैं, वहीं उद्धव ठाकरे को एक के बाद एक झटके लग रहे हैं। रविवार क उद्धव ठाकरे को झटका तब लगा था जब शिंदे गुट के सहयोगी दल भाजपा के राहुल नार्वेकर बहुमत से विधानसभाध्यक्ष चुन लिये गये। शिंदे गुट को इस मतविभाजन में 164 वोट मिले थे। जबकि, महा विकास अघाड़ी को कुल मिलाकर 107 वोट मिले। यही नहीं, सोमवार को सीएम शिंद के विधानसभा में विश्वासमत हासिल करना है, इससे पहले विधानसभाध्यक्ष राहुल नार्वेकर ने उद्धव ठाकरे को एक और झटका दिया है। शिंदे गुट के दांव में उद्धव ठाकरे ऐसे फंसे हैं कि उनके बेटे आदित्य ठाकरे और उनके साथ के 15 और विधायकों की सदस्यता खतरे में पड़ गयी है। दरअसल, नये विधानसभा अध्यक्ष ने शिंदे गुट की अपील पर उद्धव की तरफ से बनाए गए नेता सदन अजय चौधरी और उनके व्हिप सुनील प्रभु की नियुक्ति रद्द करते हुए एकनाथ शिंदे को शिवेसना विधायक दल का नेता बताया गया है और भरत गोगावले को पार्टी का व्हिप माना गया है।

इसका मतलब यह हुआ कि अगर आज विश्वासमत प्रस्ताव के दौरान आदित्य ठाकरे और उद्धव गुट के 15 अन्य यानी कुल 16 विधायकों को शिंदे कैंप की व्हिप को मानना होगा। ऐसा न करने पर उनकी विधानसभा सदस्यता जा सकती है। शिंदे गुट के इस फैसले के विरुद्ध उद्धव गुट के कोर्ट का रुख करने में भी दिक्कत है, क्योंकि सुप्रीम कोर्ट पहले ही कह चुका है कि वह 11 जुलाई को ही उसकी सारी अर्जियों पर सुनवाई करेगा।

शिवसेना का सिंबल बचाने की लड़ाई

महाराष्ट्र विधानसभा में विश्वासमत हासिल करना शिंदे गुट के लिए एक औपचारिकता मात्र रह गया है। असल लड़ाई तो अब शुरू होगी कि शिवसेना का सिंबल किस गुट के पास रहेगा। 2 तिहाई से अधिक विधायकों के टूट कर शिंदे गुट में जाने से शिंदे गुट का पलड़ा तो भारी है ही, अब खबर आ रही है कि शिवसेना के 19 में से 12 से 14 और विधायक शिंदे के साथ खड़े हो सकते हैं। अगर ऐसा होता है तो शिंदे गुट की इस सेंधमारी के बाद शिवसेना का सिंबल बचाने उद्धव ठाकरे को मुश्किल हो जायेगा। खैर, फिलहाल सबकी नजर इस समय विधानसभा पर है, जहां एकनाथ शिंटे गुट को विश्वासमत हासिल करना है। साथ ही यह भी दिलचस्प होगा कि विश्वासमत का यह आंकड़ा क्या होगा। विधानसभाध्यक्ष के लिए की गयी वोटिंग में शिंदे गुट के पक्ष में 164 और महा विकास अघाड़ी के पक्ष में 107 वोट थे। विश्वासमत का आंकड़ा इससे कितना पृथक होगा।

यह भी पढ़ें: Himachal Pradesh Accident: सैंज घाटी में बस खाई में गिरी, 12 लोगों की मौत

Related posts

Parliament: सदन के अंदर तख्तियों के साथ महंगाई पर चर्चा चाहती थी कांग्रेस, नहीं मानी लोकसभाध्यक्ष की चेतावनी, 4 सांसद सस्पेंड

Pramod Kumar

उत्तर प्रदेश को PM मोदी की बड़ी सौगात: पूर्वांचल एक्सप्रेस वे का करेंगे उद्घाटन, क्या सड़क से सधेंगे सियासी हित?

Manoj Singh

Urfi Javed का एक और हॉट और बोल्ड अंदाज, भरी महफ़िल में उतार दी अपनी ड्रेस

Manoj Singh