समाचार प्लस
Breaking देश फीचर्ड न्यूज़ स्लाइडर

लखीमपुर खीरी कांड: टेनी के बेटे पर SIT की नजर टेढ़ी, 5000 पन्नों की चार्जशीट में कहा ‘हत्या सुनियोजित’

Lakhimpur Khiri SIT Charge Sheet

न्यूज डेस्क/ समाचार प्लस – झारखंड-बिहार

पिछले साल 3 अक्टूबर को लखीमपुर खीरी के तिकुनिया में प्रदर्शन कर रहे किसानों पर एसयूवी कार से कुचलने के मामले में एसआईटी ने करीब पांच हजार पन्नों की चार्जशीट दाखिल की है। इस चार्जशीट में केंद्रीय गृह राज्य मंत्री अजय मिश्रा टेनी के बेटे आशिष मिश्रा के साथ उनके एक और करीबी वीरेंद्र शुक्ला को भी आरोपी बनाया गया है। अब मंत्री के बेटे आशीष मिश्रा सहित कुल 16 आरोपी हो गये हैं।

बता दें इस हादसे में चार किसानों की मौत हो गयी थी। चार किसानों की मौत के बाद भी हिंसा हुई थी जिसमें चार अन्य लोग भी मारे गये थे। इसमें एक स्थानीय पत्रकार रमन कश्यप की भी मौत हुई थी। इस घटना के बाद यूपी पुलिस ने आशीष मिश्रा और 12 अन्य को हत्या के आरोपी के रूप में नामजद किया था, लेकिन केंद्रीय मंत्री के बेटे की गिरफ्तारी नहीं हो रही थी। बाद में जब सुप्रीम कोर्ट की फटकार लगी तक एक सप्ताह बाद आशिष मिश्रा गिरफ्तार किया गया था।

किसानों और पत्रकार की हत्या सुनियोजित – एसआईटी

एसआईटी ने पिछले महीने स्थानीय अदालत को बताया था कि किसानों और पत्रकार की हत्या एक ‘सुनियोजित साजिश’ थी। यह कोई लापरवाही से मौत का मामला नहीं था। एसआईटी ने यह भी मांग की थी कि आशीष मिश्रा और अन्य के खिलाफ रैश ड्राइविंग के आरोपों को संशोधित कर इसे  हत्या के प्रयास और जान-बूझकर चोट पहुंचाने के आरोप से जोड़ा जाना चाहिए।

यह भी पढ़ें: रूपा तिर्की मामला: जेल में बंद दारोगा शिव कुमार कनौजिया को झारखंड हाई कोर्ट से मिली जमानत

Related posts

केंद्र सरकार को Supreme Court का नोटिस, ‘Clinical Trial के संबंध में डेटा सामने लायें’

Manoj Singh

दो नाबालिग बहनों से सामूहिक दुष्कर्म मामला: सात आरोपी गिरफ्तार, ऐसे दबोचे गए

Manoj Singh

Rahul Gandhi ने खेला हिंदू कार्ड, बोले- हिंदुओं का राज वापस लाना है, मैं भी हिंदू

Manoj Singh