समाचार प्लस
Breaking झारखण्ड फीचर्ड न्यूज़ स्लाइडर राँची

…जब Kumar Vishwas ने सीएम Hemant पर ली चुटकी कहा- रांची बचाने के लिए हेमंत जी को बार बार जाना पड़ रहा दिल्ली

Ranchi:बुधवार को रांची में झारखण्ड विधानसभा के 22 वें स्थापना दिवस समारोह (jharkhand assembly foundation day)में कवि सम्मेलन (kavi sammelan) का आयोजन किया गया. इस मौके पर आयोजित सांस्कृतिक कार्यक्रम में कवि कुमार विश्वास (Kumar Vishwas) ने अपने कविता पाठ से उपस्थित लोगों का मन मोह लिया . कुमार विश्वास ने राजनीतिक कटाक्ष के जरिये भी लोगों को खूब गुगुदाया. मंच पर आते ही सबसे पहले सीएम हेमंत सोरेन पर उन्होंने चुटकी लेते हुए पूछा कि मुख्यमंत्री जी नहीं आए. बताया गया कि वह दिल्ली गए हुए हैं.

मुख्यमंत्री आजकल दिल्ली बहुत जाते हैं, क्या कीजिएगा?

कुमार विश्वास (Kumar Vishwas) ने सीएम हेमंत सोरेन (CM Hemant Soren) पर चुटकी लेते हुए कहा कि मुख्यमंत्री आजकल दिल्ली बहुत जाते हैं, क्या कीजिएगा? रांची  बचाने के लिए दिल्ली जाना पड़ता है. उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री यहाँ होते तो अच्छा होता, मेरी कविताओं के प्रशंसक हैं. मेंरे मित्र हैं. दरअसल  मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन बुधवार देर शाम अंतरराष्ट्रीय व्यापार मेला 2022 में आज यानी की गुरुवार को झारखण्ड राज्य दिवस समारोह में बतौर मुख्या अतिथि शामिल होंगे. इसलिए वह दिल्ली गए हुए हैं.

सरयू राय को बताया झारखण्ड की राजनीति का फ़िल्टर 

कार्यक्रम के दौरान कुमार विश्वास ने निर्दलीय विधयक सरयू राय पर भी चुटकी ली. उन्होंने कहा कि सरयू झारखण्ड की राजनीति के फ़िल्टर हैं,  बार अपने घर के नल में ही लग जाते हैं. पिछली बार तो वह अपने पाइप (रघुवर सरकार) में ही अटक गए थे.

भाजपा पर भी साधा निशाना 

उन्होंने बीजेपी को निशाने पर लेते हुए कहा कि आपलोग सरयू और रघुवर को नहीं मिला पा रहे हैं, तो अयोध्या कैसे पाएँगे.

शब्द के साधकों को इसी तरह आमंत्रित किए जाते रहना चाहिए…

डॉ कुमार विश्वास ने कहा कि संविधान की मर्यादा पीठ में शब्द के साधकों को इसी तरह आमंत्रित किए जाते रहना चाहिए. इन दिनों देश में चल रहे सदन में भाषा, संवाद और डिबेट का जो स्तर गिरा है, उसमें यह जरूरी है कि कवियों को बुलाकर उन्हें विधायकों को सुनाया जाए, ताकि विधायकों को यह पता चले कि बेहतर भाषा में भी अपनी बातों को रखा जा सकता है.

ये भी पढ़ें : रांची में अपराधियों ने जमीन कारोबारी को मारी गोली, रिम्स ले जाने से पहले मौत

 

Related posts

“झारखंडी भाषा खतियान संघर्ष समिति” के गठन का Jairam Mahto ने किया ऐलान, कहा – छलावा है 1932 का खतियान

Manoj Singh

Bihar: राजद प्रदेश अध्यक्ष की कुर्सी सम्भालेंगे अब्दुल बारी सिद्दीकी, जगदानंद पद पर रहने को तैयार नहीं

Pramod Kumar

सितंबर से नए ‘AC Economy’ class में सफर कर सकेंगे यात्री, इतना लगेगा किराया

Manoj Singh