समाचार प्लस
Breaking देश फीचर्ड न्यूज़ स्लाइडर राजनीति

जानिए कौन हैं पंजाब में सियासी भूचाल लाने वाली Captain की पाकिस्तानी महिला मित्र Aroosa Alam, ऐसे हुई थी पहली मुलाकात

Captain की पाकिस्तानी महिला मित्र Aroosa Alam

न्यूज़ डेस्क/ समाचार प्लस झारखंड -बिहार

पंजाब में कांग्रेस सरकार का कलह नहीं खत्म हो पा रहा है। अब राज्य सरकार ने प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह के खिलाफ एक ऐसे मामले में जांच शुरू करवा दी है, जो करीब डेढ़ दशक पुराना है। पाकिस्तानी महिला पत्रकार अरूसा आलम (Aroosa Alam) को लेकर दो दिन से पंजाब की राजनीति गरमाई हुई है। डिप्टी सीएम और गृह मंत्री सुखजिंदर रंधावा ने अरूसा के पाकिस्तान की खुफिया एजेंसी आईएसआई (ISI) से कनेक्शन की जांच करने के निर्देश दिए हैं। उन्होंने कहा है कि अरूसा के बारे में कई बातें सामने आई हैं, जिनकी जांच जरूरी है। बता दें कि अरूसा की कई साल से पूर्व मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह से दोस्ती है। वे अक्सर कैप्टन से मिलने आती रहती हैं।

कैप्टन की पाकिस्तानी दोस्त पर आईएसआई के साथ लिंक का है आरोप 

पंजाब की चरणजीत सरकार ने पूर्व मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह के खिलाफ उनकी एक पाकिस्तानी महिला दोस्त को लेकर मोर्चा खोल दिया है। पंजाब के उप मुख्यमंत्री सुखजिंदर सिंह रंधावा ने आरोप लगाया है कि कैप्टन की पाकिस्तानी दोस्त अरूसा आलम के पाकिस्तानी खुफिया एजेंसी आईएसआई के साथ लिंक हैं।

कैप्टन की पाकिस्‍तान यात्रा के दौरान हुई थी दोस्ती 

अरूसा आलम (Aroosa Alam)पाकिस्तान की रहने वाली हैं और वे डिफेंस जर्नलिस्ट भी हैं। साल 2004 में उनकी Captain अमरिंदर सिंह से मुलाकात हुई। तब कैप्टन पाकिस्‍तान यात्रा पर गए थे। तब से दोनों में दोस्ती हो गई और फिर उसके बाद अरूसा और कैप्‍टन में मुलाकातें होने लगीं। अरूसा अक्सर कैप्टन से मिलने पंजाब आती हैं। वे कैप्टन के मुख्यमंत्री पद के शपथ ग्रहण समारोह में भी विशेष अतिथि के तौर पर मौजूद रही थीं।

अरूसा की मां को पाकिस्तान में कहा जाता है ‘क्वीन जनरल’

अरूसा 1970 के दशक में पाकिस्तान की राजनीति में हावी रहे अकीम अख्तर की बेटी हैं। अरूसा की मां को पाकिस्तान में ‘क्वीन जनरल’ भी कहा जाता था। अरूसा की मां और सोशलाइट अकलीन अख्तर को सैन्य प्रतिष्ठान का बहुत करीबी माना जाता था। इतना करीब कि उन्हें ‘जनरल रानी’ की उपाधि दी गई है।

अकलीन के बारे में कहा जाता है कि उन्होंने 1970 के दशक में पाकिस्तान की राजनीति को खासा प्रभावित किया था। यही वजह रही कि अरूसा को पाकिस्तान की सेना में अपनी मां के नेटवर्क का फायदा मिला। वह जर्नलिस्ट के तौर पर पाकिस्तान सेना पर रिपोर्टिंग करती थीं।

पनडुब्बी सौदों पर रिपोर्ट के लिए जानी जातीं अरूसा

अरूसा पाकिस्तान के रक्षा मामलों में अच्छी खासी पकड़ रखती हैं। वे अगस्ता-90बी पनडुब्बी सौदों पर अपनी रिपोर्ट के लिए जानी जाती हैं, जिसके बाद 1997 में पाकिस्तान के तत्कालीन नौसेना प्रमुख मंसूरुल हक की गिरफ्तारी हुई थी। अरूसा शादीशुदा हैं और उनके दो बच्चे हैं। वह भारत को लेकर काफी एक्साइटेड रहती हैं।

कैप्टन के काफी करीबियों में शामिल हैं अरूसा

अरूसा अक्सर कैप्टन अमरिंदर के चंडीगढ़ स्थित आवास पर आती रहती हैं। हालांकि वह पटियाला स्थित कैप्टन के घर कभी नहीं गईं। कहा जाता है कि उनकी दोस्ती से कैप्टन के परिवार वाले खुश नहीं रहते हैं। वहीं, अरूसा को कैप्टन का इतना करीबी मित्र माना जाता है कि वो उन वीवीआईपी मेहमानों में से एक थीं जिनके लिए सीएम पद के शपथ ग्रहण समारोह में विशेष इंतजाम किए गए थे।

ये भी पढ़ें : देश के सबसे बड़े हास्य कलाकार महमूद की बहन का निधन, रह चुकी हैं अपने समय की विख्यात नर्तकी

 

Related posts

झारखंड राज्य स्थापना दिवस अलंकरण परेड समारोह में सीएम हेमंत ने दिये वीरता मेडल

Pramod Kumar

Mobile Snatching : पूर्व विधायक का बेटा अपने दोस्त के साथ मिलकर करता था लूट -पाट ,चढ़ा पुलिस के हत्थे

Nidhi Sinha

10 साल की बच्ची ने Mail भेजकर जताई मिलने की इच्छा, PM Modi ने कहा, ‘दौड़े चले आओ,’ और हो गई मुलाकात!

Manoj Singh

Leave a Comment

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.