समाचार प्लस
Breaking देवघर देश फीचर्ड न्यूज़ स्लाइडर राजनीति

‘दिल्ली में लालू को बंधक बनाकर रखा’, तेज प्रताप ने साधा इशारों में तेजस्वी पर निशाना

'दिल्ली में लालू को बंधक बनाकर रखा', तेज प्रताप ने साधा इशारों में तेजस्वी पर निशाना

न्यूज़ डेस्क/समाचार प्लस झारखंड -बिहार

राष्ट्रीय जनता दल (RJD) के प्रमुख लालू प्रसाद यादव (Lalu Prasad Yadav) के सबसे बड़े बेटे तेज प्रताप यादव ने शनिवार को अपनी पार्टी या परिवार के सदस्‍यों का नाम लिए बिना निशाना साधा है. उन्होंने आरोप लगाया कि कुछ लोग पार्टी का राष्ट्रीय अध्यक्ष बनने का सपना देख रहे हैं और इसी कारण से उनके पिता को दिल्ली में ऐसे लोगों ने बंधक बनाकर रखा हुआ है.

‘कुछ लोग उन्हें दिल्ली में बंधक बनाकर रखे हुए हैं.’

तेज प्रताप यादव ने कहा, ‘मेरे पिता (लालू प्रसाद यादव) अस्वस्थ हैं. पार्टी में 4-5 लोग हैं जिन्होंने राष्ट्रीय जनता दल के राष्ट्रीय अध्यक्ष बनने का सपना देखा है. उन्हें नाम देने की आवश्यकता नहीं है, क्योंकि यह सभी को पता है. करीब एक साल पहले उन्हें जेल से रिहा किया गया था, लेकिन दिल्ली में बंधक बना लिया गया है. मैं अपने पिता को पटना लेकर आना चाहता हूं, उनके साथ रहना चाहता हूं, मगर कुछ लोग उन्हें दिल्ली में बंधक बनाकर रखे हुए हैं.’

इशारों में तेजस्वी यादव पर लगाए आरोप

मालूम हो कि तेजप्रताप बीते 3 महीने से नेता प्रतिपक्ष और अपने बड़े भाई तेजस्वी यादव (Tejashwi Yadav) के खिलाफ खुलकर बोल रहे हैं. लालू ने जब उन्हें दिल्ली बुलाकर समझाया तो कुछ दिन शांत रहे. छात्र राजद के समानांतर अपना संगठन बनाया और अब फिर मुखर हो गए. लेकिन दोनों भाईयों के बीच संबंध फिर बिगड़ गए हैं. ऐसे में तेज प्रताप ने शनिवार को इशारों-इशारों में तेजस्वी पर जो हमला बोला है वह अब तक का उनका अपने छोटे भाई पर सबसे बड़ा हमला और आरोप है.

इस वक्त दिल्ली में रह रहे हैं लालू प्रसाद यादव

गौरतलब है कि चारा घोटाला के आरोपी लालू प्रसाद यादव इन दिनों जमानत पर जेल से बाहर आ गए हैं. लेकिन कोरोना महामारी की वजह से वह बिहार में ज्यादा समय तक नहीं रुके और इस वक्त देश की राजधानी दिल्ली में ही रह रहे हैं. लालू प्रसाद नई दिल्ली में अपनी बड़ी बेटी और राज्यसभा सांसद मीसा भारती के पंडारा पार्क स्थित सरकारी आवास में रहते हैं. साथ में उनकी पत्नी राबड़ी देवी भी मौजूद हैं.यहीं से लालू केंद्र पर निशाना साधते हैं, विपक्ष के नेताओं से मिलते हैं और आरजेडी के सुप्रीमो होने के नाते पार्टी के कई कार्यक्रमों में वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए जुड़ते हैं. लेकिन अब उनके बड़े बेटे ने उनके बिहार न लौटने पर सवाल उठाए हैं जो काफी गंभीर हैं.

ये भी पढ़ें :धनबाद : टेस्टिंग के लिए बैंक मोड़ ओवरब्रिज बंद, जाम की आशंका

 

Related posts

“आपके अधिकार-आपकी सरकार-आपके द्वार”: सीएम हेमंत ने 11 अरब 27 करोड़ 52 लाख 91 हज़ार 884 की परिसंपत्तियां बांटीं

Pramod Kumar

Friendship day: दोस्ती और दुश्मनी का Cocktail है ‘Politics’

Manoj Singh

68 साल बाद टाटा समूह में एयर इंडिया की ‘घर वापसी’, टाटा संस ने लगायी सबसे बड़ी बोली

Pramod Kumar