समाचार प्लस
Breaking देश फीचर्ड न्यूज़ स्लाइडर बिहार

‘बिहारियों को सौंप दें कश्मीर, 15 दिन में सुधार देंगे’, PM मोदी से जीतन राम मांझी की मांग

'बिहारियों को सौंप दें कश्मीर, 15 दिन में सुधार देंगे', PM मोदी से जीतन राम मांझी की मांग

न्यूज़ डेस्क/ समाचार प्लस झारखंड – बिहार

एक के एक करके कश्मीर में बिहार के लोगों की हत्या के साथ लोगों में गम और गुस्सा बढ़ने लगा है।जम्मू-कश्मीर में आतंकियों द्वारा हो रही बाहरी लोगों की ‘टारगेट किलिंग’ पर बिहार के पूर्व सीएम जीतन राम मांझी (Jitan Ram Manjhi) ने ट्वीट किया है. उन्होंने कहा है कि पीएम मोदी और गृह मंत्री अमित शाह कश्मीर की जिम्मेदारी बिहार के लोगों को दे दें और वे लोग 15 दिनों में हालात सुधार कर दिखाएंगे.
गौरतलब है कि  जम्मू-कश्मीर में सेना के एंटी-टेरर ऑपरेशन से बौखलाए आतंकी एक के बाद एक गैर-कश्मीरियों को निशाना बनाते जा रहे हैं. रविवार को दक्षिणी कश्मीर के कुलगाम जिले में आतंकियों ने बिहार के रहने वाले दो मजदूरों की हत्या कर दी. मृतकों की पहचान बिहार के निवासी राजा और जोगिंदर के रूप में हुई है.

शनिवार को भी आतंकियों ने दो लोगों की हत्या कर दी थी

इससे पहले शनिवार को भी आतंकियों ने पुलवामा और श्रीनगर में दो लोगों की गोली मारकर हत्या कर दी थी. श्रीनगर में बिहार के रहने वाले अरविंद कुमार को निशाना बनाया गया था. वहीं, पुलवामा में यूपी निवासी सगीर अहमद की हत्या की गई थी.

“हमारे निहत्थे बिहारी भाईयों की हत्या की जा रहीं है जिससे मन व्यथित है”

कश्मीर में लगातार हमारे निहत्थे बिहारी भाईयों की हत्या की जा रहीं है जिससे मन व्यथित है।
अगर हालात में बदलाव नहीं हो पा रहें तो प्रधानमंत्री [email protected] जी,@AmitShah जी से आग्रह है,कश्मीर को सुधारने की जिम्मेवारी हम बिहारियों पर छोड दिजिए 15 दिन में सुधार नहीं दिया तो कहिएगा।

ये भी पढ़ें :ULF ने ली बिहार के मजदूरों पर हमले की जिम्मेदारी, कहा- घाटी छोड़ दें, नहीं तो पड़ेगा भारी

Related posts

International Literary Award : Sunjeev Sahota का ‘चाइना रूम’ बुकर पुरस्कार की दौड़ में, प्रवासियों की पीड़ा को दर्शाता है उपन्यास

Sumeet Roy

अमेरिका पहुंचे पीएम मोदी, भारतीयों ने गर्मजोशी से किया स्वागत, प्रवासी हमारी ताकत- बोले पीएम

Pramod Kumar

PM Narendra Modi ने देश को दीं RBI की दो बड़ी Schemes, निवेश करना पहले से आसान और सुरक्षित

Pramod Kumar

Leave a Comment

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.