समाचार प्लस
Breaking झारखण्ड देश फीचर्ड न्यूज़ स्लाइडर

Jharkhand News : ‘नेल्सन मंडेला नोबेल शांति पुरस्कार’ के लिए नामित हुई गायिका Mrinalini Akhauri

image source : social media

Jharkhand News : रांची : झारखण्ड की सुप्रसिद्ध ग़ज़ल गायिका ‘ मृणालिनी अखौरी ‘(Mrinalini Akhauri) को वर्ष 2022 का ” नेल्सन मंडेला नोबेल शांति पुरस्कार ” ( NMNPAA )के लिए झारखंड से नामित किया गया है .

  इस सम्मान को पाने वाली राज्य की पहली शख्सियत होंगी

झारखण्ड राज्य से सुश्री अखौरी (Mrinalini Akhauri)  पहली शख्सियत होंगी जिनको यह सम्मान प्राप्त होगा . बता दें कि उन्हें डाॅक्टरेट की मानद उपाधि से भी नवाजा जाएगा. गौरतलब है कि पूरे झारखंड में स्वर कोकिला से मशहूर मृणालिनी अखौरी को ये सम्मान उनके साल-दर-साल निरंतर समर्पण भाव से राष्ट्र के लिए सिंगिंग और सामाजिक कार्य में उत्कृष्ट योगदान के लिए चयनित किया गया है.

देशवासियों का शुक्रिया अदा किया

उन्होंने मीडिया से बातचीत में कहा है कि , पूरे झारखंड वासियों और देशवासियों को असीम प्यार और समर्थन  के लिए शुक्रिया अदा किया है; क्योंकि इन्हीं स्नेही श्रोताओं के वजह से हमें यह गौरवमयी सम्मान मिलेगा. साथ हीं मेरे पिता अखौरी प्रमोद तथा माता स्व. मंजू बाला का भी आशीर्वाद , समर्पण और निरंतर साथ के वजह ये सम्मान मिलेगा .

11 जून 2022 को मिलेगा सम्मान 

यह सम्मान अगले महीने उन्हें “11 जून 2022 ” को जम्मू कश्मीर के जम्मू स्थित हरि निवास पैलेस में दिया जाएगा . बता दें कि नेल्सन मंडेला नोबेल पीस अवार्ड हरेक साल किन्हीं शख्सियत को प्रदान किया जाता है , जो लोग राष्ट्र के लिए सामाजिक सहभागिता में समर्पित रहते हैं. वहीं डाॅक्टरेट की मानद उपाधि संत मदर टेरेसा यूनिवर्सिटी देती है. यह यूनिवर्सिटी विश्व प्रचलित अमेरिका के जेवीआर हार्वर्ड यूनिवर्सिटी से मान्यता प्राप्त है., वहीं यूनाइटेड किंगडम के कैंब्रिज स्कूल  ऑफ़ डिस्टेंस एजुकेशन से एफलिएटेड है . यह घोषणा नेल्सन मंडेला नोबल शांति पुरस्कार एकेडमी के फाउंडर प्रेसिडेंट डॉ. राजकुमार टक ने किया .

ये भी पढ़ें : ‘नहीं मैं नहीं देख सकता तुझे रोते हुए…’ MS Dhoni से मिल Imotional हुई लावण्या, ‘कैप्टेन कूल’ ने पोंछे आंसू

 

 

Related posts

आतंकवादी निरोधी दस्ते ने अवैध हथियार कारोबारी कामेन्द्र सिंह को धनबाद से किया गिरफ्तार

Pramod Kumar

बिहार राज्य प्रारंभिक शिक्षक संघ ने उठायी बोरा बेचने के आदेश को वापस लेने की मांग

Pramod Kumar

जज उत्तम आनंद मामला: जांच प्रगति पर हाईकोर्ट की सीबीआई को फटकार, एसआईटी को स्पेसिफिक रिपोर्ट का निर्देश

Pramod Kumar