समाचार प्लस
Breaking झारखण्ड फीचर्ड न्यूज़ स्लाइडर

Jharkhand: आदिवासी, दलितों पिछड़ों और अल्पसंख्यकों को बौद्धिक रूप से मजबूत होने की जरूरत – हेमंत

Jharkhand: Tribals, Dalits, OBCs need to be intellectually strong

न्यूज डेस्क/ समाचार प्लस – झारखंड-बिहार

आदिवासियों, दलितों, पिछड़ों और अल्पसंख्यकों को बौद्धिक रूप से मजबूत होने की जरूरत  है। इसका सबसे बेहतर माध्यम शिक्षा  है।  मुख्यमंत्री श्री हेमन्त सोरेन ने आज गुमला जिला भ्रमण कार्यक्रम के तहत सेंट पैट्रिक महागिरजा परिसर, गुमला में छात्राओं को संबोधित करते हुए ये बातें कही। उन्होंने छात्राओं से कहा कि आप खूब मन लगाकर पढ़ें । शिक्षा और अन्य क्षेत्रों में नई ऊंचाइयों को प्राप्त करें । इसके लिए राज्य सरकार की ओर से आपको पूरा सहयोग मिलेगा।  इस मौके पर सेंट अंजेला छात्रावास की छात्राओं  ने पारंपरिक रीति- रिवाज से मुख्यमंत्री का स्वागत किया।

प्रतियोगिता परीक्षा की तैयारियों के लिए सरकार दे रही आर्थिक सहयोग

मुख्यमंत्री ने छात्राओं को संबोधित करते हुए कहा कि आपकी बेहतर शिक्षा के लिए सरकार सभी समुचित कदम उठा रही है । आप अगर मेडिकल, इंजीनियरिंग, लॉ जैसे क्षेत्रों में अपना करियर बनाना चाहते हैं तो सरकार आपको मदद करेगी ।इसके अलावा यूपीएससी, जेपीएससी, बैंकिंग, रेलवे, एसएससी, जैसी परीक्षाओं की तैयारी कर रहे अभ्यर्थियों को  आर्थिक सहायता देने की योजना सरकार ने शुरू की है । इसके साथ छात्रवृत्ति की राशि में भी इजाफा किया गया है, ताकि आदिवासी, दलित, पिछड़े और अल्पसंख्यक वर्ग के बच्चे पढ़ाई से अलग-थलग नहीं हों।

 

विदेश में उच्च शिक्षा के के लिए पूरा खर्च दे रही सरकार

मुख्यमंत्री ने कहा कि आदिवासी, दलितों और अल्पसंख्यकों को अब विदेशों में उच्च शिक्षा ग्रहण करने में आर्थिक तंगी आड़े नहीं आएगी । सरकार विदेशों में उच्च शिक्षा के लिए पूरा खर्च आपको प्रदान करेगी। आप सरकार की योजनाओं से जुड़े और अपने साथ राज्य का भी भविष्य संवारने में सहयोग करें।

इस मौके पर श्रम मंत्री श्री सत्यानंद भोक्ता, विधायक श्री भूषण तिर्की और श्री जीगा सुसारण होरो मौजूद थे।

यह भी पढ़ें: Ranchi: अपराधियों ने सुषमा बड़ाईक को मारी गोली, अस्पताल में भर्ती

Related posts

Jharkhand: खतरे में समरी लाल की विधायकी, जाति प्रमाण पत्र रद्द, कांके विधायक को अब अदालत का आसरा, कहा – यह कांग्रेस की साजिश

Pramod Kumar

Skandmata: नवरात्रि का पांचवां दिन है मां स्कंदमाता को समर्पित, भक्तों की सभी इच्छाएं करती हैं पूरी

Manoj Singh

Navratri: सम्पूर्ण जगत की जननी हैं मां कूष्मांडा

Pramod Kumar