समाचार प्लस
Breaking झारखण्ड फीचर्ड न्यूज़ स्लाइडर राजनीति

Jharkhand Politics: कांग्रेस कोटे के तीन मंत्रियों की कुर्सी संकट में! नये चेहरों को मिल सकता है मौका

image source : social media

Jharkhand Politics: हेमंत सरकार (Hemant govt) में शामिल कांग्रेस कोटे के तीन मंत्रियों (Congress quotas three ministers) की कुर्सी संकट में है। जानकारी के मुताबिक झारखंड में कांग्रेस कोटे के मंत्रियों को बदले जाने की संभावना अब प्रबल होती दिख रही है। कांग्रेस आलाकमान ने सभी मंत्रियों के प्रदर्शन का आकलन किया है। इसमें जिनका प्रदर्शन अच्छा नहीं होगा, वे मंत्रिपरिषद से हटाए जा सकते हैं। उनके स्थान पर नए चेहरे को मौका मिलेगा।

प्रदेश कांग्रेस प्रभारी अविनाश पांडे ने की वरीय नेताओं संग मंत्रणा 

कांग्रेस में इस विषय पर मंथन शुरू हो गया है। इस संबंध में अंतिम निर्णय तक पहुंचने के लिए विधायकों से और  संगठनात्मक स्तर पर मिली शिकायतों पर भी गौर किया जाएगा। प्रदेश कांग्रेस प्रभारी अविनाश पांडे इसे लेकर काफी गंभी हैं। उन्होंने इस संबंध में प्रदेश के कई वरीय नेताओं संग मंत्रणा की है। अलग-अलग स्तर मिले मंतव्य का आकलन करने के बाद आलाकमान को वे इस संबंध में अंतिम रिपोर्ट सुपेंगे।

प्रदेश के वरीय नेताओं के सुझावों को प्राथमिकता दी जाएगी

हालांकि कांग्रेस कोटे के मंत्रियों में फेरबदल को लेकर यह कोई नई कवायद नहीं है, यह  कुछ समय पहले से ही चल रही है। कांग्रेस नेता राहुल गांधी की भारत जोड़ो यात्रा समेत कुछ राज्यों में विधानसभा चुनाव के कारण इसपर विचार नहीं हो पा रहा था। अब इस पर अंतिम फैसला जल्द होगा। निर्णय लेने के पहले प्रदेश के वरीय नेताओं के सुझावों को आधार बनाया जाएगा।

मंत्रियों पर जिलाध्यक्षों ने लगाया उपेक्षा का आरोप 

कांग्रेस के जिलाध्यक्षों की यह शिकायत रही है कि पार्टी कोटे से शामिल मंत्री उनकी सुनते नहीं हैं।जिलों के दौरे के क्रम में प्रदेश प्रभारी को इससे संबंधित सबसे ज्यादा नाराजगी देखने को मिली है। पार्टी के संवाद कार्यक्रम में कार्यकर्ताओं ने जमकर सी सम्बन्ध में शिकायत की है। इसके अलावा विधायकों की भी शिकायत है कि उनके क्षेत्र में भ्रमण और कार्यक्रम तय होने के बावजूद उन्हें मंत्रियों द्वारा सूचित नहीं किया जाता।

महिला विधायक को मिल सकता है मौका

ऐसी संभावना जताई जा रही है कि मंत्रिमंडल में कांग्रेस कोटे के मंत्रियों में फेरबदल हुई तो एक महिला विधायक को मंत्री का पद मिल सकता है ।  सियासी गलियारों में इस बात को लेकर चर्चा तेज है कि झरिया विधायक पूर्णिमा नीरज सिंह को पार्टी में अहम जिम्मेदारी मिल सकती है, उन्हें मंत्री पद की जिम्मेदारी दी जा सकती है। इसके अलावा महिला विधायकों में महगामा की विधायक दीपिका पांडेय सिंह, झरिया की विधायक पूर्णिमा नीरज सिंह और बड़कागांव की विधायक अंबा प्रसाद के नाम भी शामिल हैं।  वहीँ रामगढ़ की विधायक ममता देवी की विधायकी समाप्त हो चुकी है।

ये भी पढ़ें : सीएम Hemant Soren ने दिया अपनी संपत्तियों का ब्योरा, पूछताछ के दौरान ED ने मांगी थी पूरी जानकारी

 

Related posts

Jharkhand: सीएम हेमंत पर स्थिति स्पष्ट करने यूपीए प्रतिनिधिमंडल पहुंच गया राजभवन, मिला जवाब ‘थोड़ा इंतजार और’

Pramod Kumar

यूपी के सपा नेता अनुराग भदौरिया फरार, घर पर पुलिस ने चिपकाया कुर्की का इश्तेहार

Pramod Kumar

Patna News: पटना में अतिक्रमण हटाने गई पुलिस पर हमला, SP समेत पुलिसकर्मी जख्मी

Manoj Singh