समाचार प्लस
Breaking झारखण्ड फीचर्ड न्यूज़ स्लाइडर

Jharkhand Panchayat Election: 19 जिलों के 70 प्रखंडों में कल वोट, 1043 पंचायतों के मतदाता तैयार

Jharkhand Panchayat Election: Votes tomorrow in 70 blocks of 19 districts

न्यूज डेस्क/ समाचार प्लस – झारखंड-बिहार

झारखंड पंचायत चुनाव के तीसरे चरण की वोटिंग मंगलवार को राज्य के 19 जिलों के 70 प्रखंडों में होगी। इस चरण में कुल 8,704 पदों पर 27,343 प्रत्याशियों की प्रतिष्ठा दांव पर लगी हुई है। तीसरे चरण में जितने प्रत्याशी मैदान में हैं, उनमें एक महिला मुखिया प्रत्याशी निर्विरोध निर्वाचित हो चुकी हैं। वहीं, तीन पंचायतों में एक भी प्रत्याशी ने नामांकन नहीं किया। यानी कल 1043 पंचायतों में चुनाव होगा जिसमें मुखिया पद के लिए 6423 प्रत्याशी चुनावी मैदान में होंगे। तीसरे चरण में 12,912 बूथों पर 46 लाख से अधिक वोटर्स मतदान करेंगे।

तीसरे चरण के चुनाव में स्थिति यही है कि ग्राम पंचायत सदस्य  के 6370 पदों के लिए 15,583 प्रत्याशी मैदान में हैं। वहीं मुखिया के 1043 पदों के लिए 6423 प्रत्याशी अपनी किस्मत आजमा रहे हैं। जबकि पंचायत समिति सदस्य के 1165 पदों के लिए 4556 उम्मीदवार दावेदारी ठोंक रहे हैं। जिला परिषद सदस्य के 126 पदों के लिए 781 चुनाव मैदान में कूदे हैं। कल के मतदान के लिए 12,912 बूथ बनाए गये हैं। इसके तहत सामान्य बूथों की संख्या 2087 है, 6021 बूथ संवेदनशील है और 3804 बूथों को अति संवेदनशील की श्रेणी में रखा गया है।

इस तरह करना है मतदान

एक वोटर को चार वोट देना है और इसके लिए चार रंग के मतपत्र होंगे –

पहला वोट : वार्ड सदस्य के लिए देना है। वार्ड सदस्य का चुनाव 500 की आबादी पर होगा, जिसके लिए मतपत्र का रंग सफेद होगा।

दूसरा वोट : मुखिया के लिए देना है। मुखिया का चुनाव 5000 की आबादी पर होगा, जिसके लिये मतपत्र का रंग हल्का गुलाबी होगा।

तीसरा वोट : पंचायत समिति के सदस्य के लिए देना है। पंचायत समिति के सदस्य का चुनाव भी 5000 की आबादी पर होगा, जिसके लिए मतपत्र का रंग हल्का हरा होगा।

चौथा वोट : जिला परिषद के सदस्य के लिए देना है। जिला परिषद के सदस्य का चुनाव 50,000 की आबादी पर होगा, जिसके लिये मतपत्र का रंग हल्का पीला होगा।

यह भी पढ़ें: JHARKHAND: रांची नगर निगम के वर्षा-जल-संरक्षण पर ग्रहण, कम पैसों में कोई नहीं बनाना चाहता रिचार्ज पिट!
https://samacharplusjhbr.com/jharkhand-eclipse-on-rain-water-conservation-of-ranchi-municipal-corporation/

Related posts

पिता चलाते हैं तांगा, मां थी नौकरानी, जानें महिला हॉकी टीम की कप्तान Rani Rampal के संघर्ष की कहानी

Sumeet Roy

By-Election 2021: उपचुनाव के लिए मतों की गिनती जारी, तेजस्वी बोले- दोनों सीट शानदार अंतर से जीतेंगे

Manoj Singh

Row over coal : कोयले को लेकर कब ख़त्म होगी झारखंड और केंद्र सरकार के बीच तकरार?

Manoj Singh