समाचार प्लस
Breaking गढवा झारखण्ड देश पलामू फीचर्ड न्यूज़ स्लाइडर

Jharkhand: 75 प्रतिशत मुस्लिम आबादी वाले इलाके में कट्टरपंथियों का फरमान, हाथ नहीं जोड़ेंगे बच्चे, प्रार्थना भी बदलो

image source : social media

Jharkhand: झारखंड के गढ़वा जिले के सदर प्रखंड अंतर्गत कोरवाडीह स्थित उत्क्रमित विद्यालय में प्रार्थना को साम्प्रदायिक रंग दिया जा रहा है। स्कूल के प्रिंसिपल पर लगातार स्कूल के नियमों में बदलाव को लेकर दबाव बनाया गया है। यहां स्कूल प्रिंसिपल युगेश राम पर इस्लामी नियम लागू करवाने के साथ स्कूल प्रार्थना बदलने का दबाव बनाया है। मिली जानकारी के अनुसार, इस्लामिक कट्टरपंथियों ने प्रिंसिपल को कहा कि क्षेत्र में उनकी आबादी 75% है। इसलिए नियम भी उन्हीं के हिसाब से होंगे।

 

अब बदल गया प्रार्थना 

पहले यहां ‘दया का दान विद्या का’… प्रार्थना करवाई जाती थी।  अब ‘तू ही राम है तू ही रहीम’ प्रार्थना स्कूल में होने लगी है। इतना ही नहीं स्कूल में बच्चों को हाथ जोड़ कर प्रार्थना करने से भी मना कर दिया गया है।

किसी भी तरह के बाहरी हस्तक्षेप को बर्दाश्त नहीं किया जाएगा-जगरनाथ महतो

राज्य के शिक्षा मंत्री जगरनाथ महतो ने इस पूरे मामले में हस्तक्षेप करते हुए उपायुक्त को कड़ी कार्रवाई करने का आदेश दिया है। शिक्षा मंत्री ने साफ कहा है कि सरकारी स्कूलों में किसी भी तरह के बाहरी हस्तक्षेप को बर्दाश्त नहीं किया जाएगा।

मुस्लिम समाज के लोगों ने डाला दबाव

जानकारी के मुताबिक यहां के प्रधानाध्यापक योगेश राम पर गांव के लोगों ने दबाव बनाया कि वो स्कूल में सालों से हो रही प्रार्थना को बदल दें। इसके बाद प्रधानाध्यापक ने इसकी जानकारी पंचायत के मुखिया और शिक्षा विभाग के अधिकारियों को दी। खुलासा हुआ कि पिछले 4 महीने से स्कूल में पुरानी प्रार्थना को बदल कर नई प्रार्थना छात्रों से करवाई जा रही है।

ये भी पढ़ें: अक्षय ऊर्जा से जगमग होगा झारखंड, सीएम हेमंत ने किया सोलर ऊर्जा नीति 2022 का लोकार्पण

 

Related posts

बिहार में Corona के एक्टिव केस 203, सबसे अधिक नए मरीज पटना में मिले

Manoj Singh

Video: ब्रिटनी स्पीयर्स के गाने पर Shehnaaz Gill ने दिखाए सबसे बोल्ड और हॉट मूव्स, फैंस बोले ‘Killer Baby’ 

Manoj Singh

Koderma News: झारखंड के कोडरमा में लगभग आधा दर्जन दवा दूकान हुए सील, बेची जाती थी एक्सपायरी और प्रतिबंधित दवाइयां

Sumeet Roy