समाचार प्लस
Breaking झारखण्ड फीचर्ड न्यूज़ स्लाइडर राँची

Jharkhand News : झारखंड को बिहार की भाषाओं से परहेज, JTET परीक्षा से हटाई जाएंगी ये भाषाएं

Jharkhand News: these languages ​​will be removed from JTET exam

न्यूज़ डेस्क/ समाचार प्लस झारखंड- बिहार


झारखंड शिक्षक पात्रता परीक्षा (JTET) से मगही, भोजपुरी, अंगिका, मैथिली भाषा हटाने को लेकर विधि विभाग को प्रस्ताव भेजा गया है। इसके अलावा जेटेट परीक्षा में अर्हता में भी संशोधन का भी प्रस्ताव भेजा गया है। इससे अब मैट्रिक और इंटर उत्तीर्ण भी शामिल हो सकेंगे। इसपर अभी  कैबिनेट की स्वीकृति बाकी है।

भाजपा ने बताया लाखों लोगों के साथ अन्याय
वहीं भाजपा ने इस प्रस्ताव पर एतराज जताते हुए कहा है कि जेएससीसी के बाद अब जेटेट परीक्षा से भी मैथिली, अंगिका, मगही और भोजपुरी भाषाओं को बाहर करने की तैयारी हो रही है। यह बेहद निंदनीय है और राज्य के सीमावर्ती जिलों में रहने वाले लाखों मूलवासी अभ्यर्थियों के साथ अन्याय भी है। भाजपा प्रदेश प्रवक्ता प्रतुल शाहदेव ने इस पर कड़ा विरोध जताते हुए कहा है कि कांग्रेस और राजद भी इस मुद्दे पर अपना स्टैंड क्लियर करे।

भोजपुरी, मगही, अंगिका और मैथिली भाषा को  शामिल करने की उठती रही है मांग 

झारखंड की राज्य स्तरीय प्रतियोगिता परीक्षा में स्थानीय भाषा के अलावा अब भोजपुरी, मगही, अंगिका और मैथिली भाषा को  शामिल करने की मांग उठती रही है। इस संबंध में झारखंड के शिक्षा मंत्री जगरनाथ महतो को कई संगठन मांग पत्र भी सौंप चुके हैं। बता दें कि झारखंड कैबिनेट में राज्य स्तरीय प्रतियोगिता परीक्षा में 30 अंक की परीक्षा स्थानीय भाषा में देना अनिवार्य किया है. इसके तहत संताली, मुंडारी, हो, खड़िया, कुड़ूख, कुरमाली, खोरठा, नागपुरी, पंचपरगनिया, उड़िया आदि शामिल है.

ये भी पढ़ें : दक्षिण भारत में आयी आसमान से आफत, बारिश के कहर में डूबीं 28 जिंदगियां, देखिये बारिश का कहर

 

Related posts

मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन 13 को करेंगे स्वास्थ्य चिकित्सा परिवार कल्याण विभाग के कार्य प्रगति की समीक्षा

Manoj Singh

माइक्रो SUV Tata Punch लॉन्च, सेफ्टी में फाइव स्टार रेटिंग, चुकानी होगी बस इतनी कीमत

Manoj Singh

IAS अभिषेक सिंह बड़े पर्दे पर दिखायेंगे जलवा, सीएम हेमंत को बताया बॉलीवुड में रखने वाले हैं कदम

Pramod Kumar