समाचार प्लस
Breaking झारखण्ड देश फीचर्ड न्यूज़ स्लाइडर

Jharkhand: सरकारी स्कूलों का नाम बदलने का मामला पहुंचा हाईकोर्ट, याचिका में स्कूलों के इस्लामीकरण पर रोक की मांग

Jharkhand: The matter of changing the name of government schools reached the High Court

न्यूज डेस्क/ समाचार प्लस – झारखंड-बिहार

झारखंड के छह जिलों में स्कूलों के साथ गड़बड़झाला करने का मामले हाईकोर्ट पहुंच गया है। इन जिलों में एक तो पहले स्कूलों के नामों के आगे जबरन ‘उर्दू’ लिखा गया, फिर इन स्कूलों का तौर-तरीका ही बदल दिया गया, मानो ये स्कूल भारत में नहीं, बल्कि पाकिस्तान में हैं। स्कूल की छुट्टी रविवार को हुआ करती थी, उसे बदल कर शुक्रवार कर दिया गया। प्रार्थना हाथ जोड़कर होती थी, उसे बदला गया। मामला संज्ञान में आने के बाद शिक्षा विभाग हरकत में आया और स्कूलों के नाम के आगे से उर्दू शब्द हटाने और छुट्टी रविवार को करने का आदेश दिया था। लेकिन सरकारी आदेश का स्कूलों पर विशेष फर्क नहीं पड़ा है।

इस घटना के चर्चा में आने के बाद सामाजिक कार्यकर्ता पंकज यादव ने  अधिवक्ता राजीव कुमार के जरिए झारखंड हाई कोर्ट में जनहित याचिका दायर की है। पंकज यादव का आरोप है कि इन स्कूलों का इस्लामीकरण किया जा रहा है, यह एक घातक सोच है। पंकज यादव ने याचिका में कहा कि जामताड़ा, पाकुड़, गढ़वा समेत झारखंड के छह जिलों के सैकड़ों स्कूलों के इस्लामीकरण का कुत्सित प्रयास किया गया है। चूंकि ये इलाके मुस्लिम बहुल बहुल हैं, इसलिए सरकारी स्कूलों के नाम के आगे ‘उर्दू विद्यालय’ लिख दिया जा रहा है। उन विद्यालयों के रविवार के अवकाश को शुक्रवार कर दिया जा रहा है। इतना ही नहीं स्कूलों में हाथ जोड़ कर प्रार्थना करने की बजाय हाथ बंद कर प्रार्थना करवायी जा रही है।

याचिका में यह भी कहा गया कि रांची के कई स्कूलों में भी ऐसा किये जाने के बाद भी प्रशासन मौन है। पंकज यादव ने इस प्रकरण में मुख्य सचिव, सचिव मानव संसाधन विभाग, निदेशक प्राथमिक शिक्षा, डीसी लातेहार, डीसी जामताड़ा, डीसी गढ़वा सहित डीजीपी को प्रतिवादी बनाया है।

यह भी पढ़ें: Asian Games अब अगले साल सितंबर-अक्टूबर में, चीन का हांगझोउ है मेजबान

Related posts

International Tiger Day : देश का राष्ट्रीय प्रतीक बाघ प्रतीक बन कर न रह जाये

Sumeet Roy

Russia-Ukraine War Day 25: स्कूल पर अटैक, मलबे में दबे 400 लोग!, यूक्रेन के कई शहरों में रुसी हमले जारी

Manoj Singh

Ukraine पर हमले के बाद YouTube ने भी उठाया बड़ा कदम, रूसी मीडिया आउटलेट RT और चैनलों पर लगाया प्रतिबंध

Manoj Singh