समाचार प्लस
Breaking झारखण्ड फीचर्ड न्यूज़ स्लाइडर राँची

Jharkhand: ED के ‘तीरों’ का सामना करने पहुंच गये CM हेमंत, बच पायेंगे या होंगे घायल

Jharkhand: Hemant reaches to face ED's 'arrows', will he survive or get injured

न्यूज डेस्क/ समाचार प्लस – झारखंड-बिहार

मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ईडी ऑफिस पहुंच चुके हैं। अन्दर क्या हो रहा है, यह तो किसी को नहीं पता, लेकिन इतना है कि वह ईडी के द्वारा तैयार किये गये 200 से अधिक सवालों का ही जवाब दे रहे हैं। आखिर वह उन्हीं सवालों का जवाब देने के लिए ही तो गये हैं। सीएम हेमंत जनता की अदालत में खुद को कई बार बेगुनाह घोषित कर चुके हैं। जनता की अदालत में सीएम हेमंत ने खुद को तो पास घोषित कर दिया, अब देखना है कि क्या ईडी की अदालत से भी वह पास होकर बाहर निकलते हैं या नहीं। सीएम हेमंत पर जब से अवैध खनन, शेल कम्पनियों के जरिये धन शोधन, अपने करीबियों को लाभ पहुंचाने का आरोप लगा है तब से वह हर जनसभा में भाजपा, केन्द्र सरकार, जांच एजेंसी, झारखंड के राज्यपाल और चुनाव आयोग को कोस-कोस कर अपने आप को सही साबित करने का प्रयास करते रहे हैं। बुधवार को सीएम ऑफिस में भी गांडेय के पूर्व भाजपा विधायक जेपी वर्मा को झामुमो में शामिल होने के मौके पर भी अपने आप को पाक-साफ बताते हुए विरोधियों को जमकर कोसा। यह सिलसिला गुरुवार को भी जारी रहा। ईडी दफ्तर जाने से पहले भी प्रेस वार्ता कर उन्होंने विरोधियों पर जमकर हमला बोला। प्रेस वार्ता में उन्होंने कहा- आज मुझे ईडी के दफ्तर में जाना है। राज्य में अवैध खनन की जांच ईडी कर रही है। उस संदर्भ में मुझे तलब किया है। इस संबंध में मैंने एक पत्र ईडी को भेजा है कि किस प्रकार से 1000 करोड़ के घोटाले का जो जिक्र साहिबगंज जिले से आया है, वह दुर्भाग्यपूर्ण है। जब से एजेंसी जांच कर रही है, जो आरोप लगे हैं वे कहीं से संभव प्रतीत नहीं होते। कहीं न कही एजेंसियों को जांच करने के बाद भी कोई ठोस निर्णय या ठोस आरोप लगाना चाहिए। मैं सीएम हूं, जिस प्रकार से तलब करने की कार्रवाई चल रही है, लग रहा है कि हम देश छोड़कर भागने वाले लोग हैं।

यानी ईडी ऑफिस पहुंचने से पहले तक उन्होंने अपने ऊपर जांच एजेंसियों की कार्रवाई को गलत माना है। परन्तु सीएम हेमंत को जो कहना था, वह कह चुके, अब ईडी की बारी है। अब देखना यह है कि ईडी के तरकश में कौन-कौन से तीर हैं। इन तीरों से हेमंत खुद को बचा पाते हैं या…

यह भी पढ़ें: Jharkhand: ईडी दफ्तर के लिए निकले सीएम, प्रेस वार्ता में जांच को लेकर उठाये सवाल

Related posts

झारखंड विधायक खरीद फरोख्त मामला: मंगलवार को Congressविधायकों की लगेगी Class

Manoj Singh

Bank Holidays: इस महीने 6 दिन बंद रहेंगे बैंक! ब्रांच जाने से पहले देखें छुट्टियों की पूरी लिस्‍ट

Manoj Singh

Jharkhand: ‘भारत बंद’ के एक Fake वायरल मैसेज से सुलगी आग रांची भी पहुंची, उपद्रवियों ने मेन रोड में मचाया उत्पात

Pramod Kumar