समाचार प्लस
Breaking झारखण्ड फीचर्ड न्यूज़ स्लाइडर

Jharkhand: दुमका पेट्रोल कांड में नाबालिग की मौत पर हाईकोर्ट का राज्य और केन्द्र सरकारों से सवाल

Jharkhand: High court's question to the state and center on the death of a minor in Dumka

न्यूज डेस्क/ समाचार प्लस – झारखंड-बिहार

झारखंड के दुमका में 23 अगस्त को जिस दिल दहलाने वाली घटना में नाबालिग छात्रा को पेट्रोल छिड़कर जला डाला गया था और उसकी रांची के रिम्स में इलाज के दौरान मौत हो गयी थी, उस मामले पर झारखंड-हाई कोर्ट राज्य सरकार और केन्द्र सरकार दोनों से सवाल पूछे हैं। हाई कोर्ट ने सवाल इस बात पर उठाये कि जिन परिस्थितियों में इलाज के अभाव में पीड़िता की मौत हुई क्या उसको टाला नहीं जा सकता था। क्योंकि जलाई गयी नाबालिग का न दुमका में सही से इलाज हो सका और न ही रांची के रिम्स में बचाया जा सका। दुमका के निकट देवघर एम्स भी है, क्या वहां इलाज की समुचित सुविधाएं नहीं हैं? कोर्ट ने इस मामले में डीजीपी को शपथ-पत्र दाखिल करने का निर्देश दिया है।

हाई कोर्ट ने केन्द्र सरकार से भी किया सवाल

झारखंड हाई कोर्ट ने केंद्र सरकार से भी पूछा कि क्या देवघर एम्स में बर्न वार्ड है या नहीं? इसके अलावा एम्स में आम मरीजों के लिए अन्य कौन-कौन सी सुविधाएं उपलब्ध हैं। कोर्ट के इस सवाल को केंद्र सरकार को भी शपथ पत्र के माध्यम से जवाब देना है। इस मामले की अगली सुनवाई चार नवंबर को होगी। बता दें हाई कोर्ट के चीफ जस्टिस डॉ रवि रंजन की अध्यक्षता वाली खंडपीठ ने 30 अगस्त को इस घटना का स्वत: संज्ञान लेते हुए डीजीपी को तलब किया था।

यह भी पढ़ें: Jharkhand: मुख्यमंत्री हेमन्त सोरेन “आपकी योजना आपकी सरकार आपके द्वार” कार्यक्रम लेकर पहुंचे चाईबासा

Related posts

Nitish Cabinet का फैसला, 8000 पदों पर होगी बंपर भर्ती, 16 एजेंडों पर लगी मुहर

Manoj Singh

जेएससीए के दीपक बंका को बीसीसीआई ने भारत-न्यूजीलैंड कानपुर टेस्ट का पर्यवेक्षक बनाया

Pramod Kumar

सुप्रीम कोर्ट के वकीलों को आई कॉल; काफिला रोकने के लिए SFJ जिम्मेदार, Modi की मदद न करें

Manoj Singh