समाचार प्लस
Breaking झारखण्ड देश फीचर्ड न्यूज़ स्लाइडर

Jharkhand: : पहले छापेमारी अब पूछताछ की बारी, IAS पूजा सिंघल को ईडी भेजा समन, सफेदपोशों के उतरेंगे नकाब?

Jharkhand: : First raid, now turn of inquiry, ED will send summons to Pooja Singhal

न्यूज डेस्क/ समाचार प्लस – झारखंड-बिहार

IAS पूजा सिंघल के कालेधन के साम्राज्य को ईडी की नजर लग चुकी है। शुक्रवार से ईडी ने कई राज्यों में उनके कई ठिकानों पर एक साथ छापेमारी शुरू की। छापेमारी शनिवार को भी जारी है। जैसे-जैसे छापेमारी आगे बढ़ रही है, नये-नये खुलासे हो रहे हैं। फिलहाल ईडी के हाथ अकूत काली कमाई के साथ कई महत्वपूर्ण कागजात हाथ लगे हैं। पूजा सिंघल के ठिकानों से जब्त किए गए कागजातों की जांच भी शुरू कर दी गयी है। माना जा रहा है कि यह उनके काले साम्राज्य का काला चिट्ठा साबित हो सकते हैं। ईडी इन सुबूतों के आधार पर आईएएस पूजा सिंघल को पूछताछ का बुलावा यानी समन भेजा है। ईडी के सूत्रों से पूजा सिंघल के खिलाफ मिले इन सुबूत के बाद ईडी जल्द ही पूजा सिंघल को पूछताछ के लिए बुलाएगी।

दूसरे दिन भी पल्स अस्पताल में ईडी की दबिश

ईडी की टीम दूसरे दिन भी पल्स अस्पताल पहुंची है। शुक्रवार की तुलना में आज ईडी के ज्यादा सदस्य छापेमारी के लिए पहुंचे हैं। नयी जानकारी के अनुसार ईडी को पल्स अस्पताल के 11 बैंक खातों का पता चला है। ये सभी खाते निजी बैंकों के हैं। इसके अलावा दो बैंकों में पल्स अस्पताल के लॉकर की भी जानकारी मिली है।

पूजा सिंघल का CA सुमन कुमार हिरासत में

छापेमारी के दौरान पूजा सिंघल के सीए सुमन कुमार के पास से शुक्रवार को 18 करोड़ रुपये कैश बरामद हुए थे। सुमन कुमार को आज ईडी ने हिरासत में ले लिया है। सुमन कुमार के भाई पवन कुमार को भी ईडी ने बुलाया था, लेकिन बाद में उसे जाने दिया। सुमन कुमार के बारे में ईडी को कई महत्वपूर्ण जानकारियां मिली हैं। जानकारी यह है कि सुमन कुमार लग्जरी जिन्दगी जीने का आदी है। उसके आवास से बड़ी संख्या में लग्जरी गाड़ियां मिली हैं। फिलहाल ईडी ने सभी गाड़ियों की चाबियां जब्त कर ली हैं।

ब्यूरोक्रेट्स और सफेदपोशों की भूमिका होगी उजागर?

ईडी को पूजा सिंघल के पति अभिषेक झा के पल्स अस्पताल में छापेमारी के दौरान कई महत्पूर्ण कागजात हाथ लगे हैं। अस्पताल के मालिकाना हक समेत कई जगह निवेश से जुड़े कागजातों के बारे में कहा जा रहा है कि झारखंड कैडर के कई ब्यूरोक्रेट्स और सफेदपोशों की भूमिका भी उजागर हो सकती है।

यह भी पढ़ें: Jharkhand के 5 IAS सहित 23 अफसरों की ‘निगरानी’ सस्ता माल महंगा खरीद कर किया बड़ा सोलर घोटाला

Related posts

पुलिस की मुखबिरी के आरोप में जमुई में माओवादियों ने की पिता-पुत्र की हत्या

Pramod Kumar

ICSE और ISCE Board के स्टुडेंट्स का इंतजार खत्म, कल जारी होंगे 10वीं और 12वीं के परीक्षा परिणाम

Pramod Kumar

UP Election: जातीय गणित लगायेगा भाजपा की नैया पार, चुनाव जीतने के लिए जातियों पर दांव

Pramod Kumar