समाचार प्लस
Breaking झारखण्ड फीचर्ड न्यूज़ स्लाइडर

Jharkhand: सीएम हेमंत ने 75 योजनाओं की दी सौगात, 77 योजनाओं की रखी आधारशिला

Jharkhand: CM Hemant gave the gift of 75 schemes, foundation stone of 77 schemes

42,816 किसान के बीच 191 करोड़ केसीसी लोन वितरित

न्यूज डेस्क/ समाचार प्लस – झारखंड

मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने आज हजारीबाग में आयोजित प्रमंडल स्तरीय मेगा किसान क्रेडिट कार्ड वितरण शिविर-सह-जागरूकता एवं विभिन्न योजनाओं का शिलान्यास एवं उद्घाटन किया। इस मौके पर मुख्यमंत्री हेमन्त सोरेन ने कहा कि राज्य की लगभग 70 प्रतिशत आबादी ग्रामीण क्षेत्रों में रहती है। ऐसे में किसानों और मजदूरों की आमदनी बढ़ाने एवं उनके समृद्धि और खुशहाली के लिए सरकार प्रतिबद्ध है। क्योंकि, जब हमारे ग्रामीणों की सामर्थ्य क्षमता बढ़ेगी तो राज्य भी सशक्त बनेगा। इस कार्यक्रम को संबोधित कर रहे थे। उन्होंने कहा कि किसान एवं मजदूरों के हित में और उन्हें सहयोग करने के लिए सरकार कार्य योजनाओं को बनाकर उसे धरातल पर उतारने का काम कर रही है। केसीसी लोन में बैंकर्स को निर्देशित किया गया है कि वह किसानों को हर संभव सहायता करें । जब सब कदम बढ़ा कर आगे आएंगे तो हम प्रगति की ओर अग्रसर हो सकेंगे।

योजनाओं का जमीनी स्तर पर निरीक्षण

मुख्यमंत्री ने कहा कि किसान, मजदूर भाइयों को सरकार के योजनाओं का लाभ मिल रहा है या नहीं, उसके लिए जमीनी स्तर पर जाकर निरीक्षण करने का काम कर रही है। आज के जैसे कार्यक्रमों का आयोजन कर मैं खुद आपके बीच आकर आपको योजनाओं से  आच्छादित करने का काम कर रहा हूं।

फलदार पौधे लगाने के लिए ग्रामीणों को मिलेगा वृक्षों का पट्टा

मुख्यमंत्री ने कहा कि सरकार के बिरसा हरित ग्राम योजना के तहत हर ग्रामीण को फलदार वृक्ष लगाने के लिए प्रोत्साहित करने का काम किया जा रहा है। जिस तरह जंगल का पट्टा, जमीन का पट्टा आवंटित किया जाता था, उसी प्रकार अब वृक्षों का भी पट्टा लोगों को उपलब्ध कराया जाएगा। अब सरकारी जमीन पर भी ग्रामीण किसान फल का पेड़ लगा सकेंगे और इस फल के पेड़  का मालिकाना हक भी उनके पास ही रहेगा।

कम बारिश से सुखाड़ की आशंका,  हालात से निपटने की हो रही तैयारी

मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य में अब तक सामान्य से कम बारिश हुई है। ऐसे में सुखाड़ की आशंका बढ़ती जा रही है । यह हम सभी के लिए चिंता की बात है, लेकिन इससे निपटने के लिए भी सरकार तैयार है।  मुख्यमंत्री ने कहा कि   हम सब ने साथ मिलकर ढ़ाई साल में  कई समस्याओं को समाधान करने काम किया है। इस समस्या के निदान के लिए हम सब साथ मिलकर योजनाबद्ध तरीके से काम कर रहे हैं। किसानों को खेती के लिए सही सलाह मिल सके, इसलिए कृषि पदाधिकारी की नियुक्ति की गई है। इस सुखाड़ जैसी परिस्थितियों में किसान क्या करें क्या नहीं उसके लिए किसान इन पदाधिकारियों की सलाह पर खेती कर सकते है। उन्होंने कहा कि  हम आदिवासी मूल निवासी के मदद से राज्य के उत्थान के लिए हर संभव कार्य कर रहे हैं।

लोगों की सामाजिक सुरक्षा को विशेष प्राथमिकता

मुख्यमंत्री ने कहा कि सरकार आपके द्वार कार्यक्रम से सुदूरवर्ती क्षेत्रों में योजनाओं को पहुंचाने का काम किया जा रहा है। अब पदाधिकारी गांव-गांव जाकर आपके लिए कार्य कर रहे हैं। नौजवानों को जेपीएससी में रिकॉर्ड समय में नियुक्ति पत्र मिल रहा है।  वृद्धा, असहाय, विधवा को पेंशन से आच्छादित किया जा रहा। सरकार आम लोगों के सामाजिक सुरक्षा के लिए काम कर रही है।  लाखों सरकारी कर्मचारियों के पुरानी पेंशन की मांग को पूरा करने का काम किया गया है।

इन योजनाओं का हुआ उद्घाटन-शिलान्यास

मुख्यमंत्री द्वारा इस कार्यक्रम में उत्तरी छोटानागपुर प्रमंडल के 42,893 किसान क्रेडिट कार्ड धारकों के  बीच लगभग 19081.74 लाख रुपये केसीसी लोन के रूप में वितरित किया गया। वहीं कुल 58,97,01,161 रुपये राशि के कुल 75 योजनाओं का उद्घाटन एवं 1,46,74,74,444 रुपये राशि के कुल 77 योजनाओं का शिलान्यास किया गया।

इनकी रही उपस्थिति

मंत्री श्रम, नियोजन एवं प्रशिक्षण विभाग सत्यानंद भोक्ता, मंत्री कृषि, पशुपालन एवं सहकारिता विभाग बादल,  विधायक सरफराज अहमद, विधायक सुश्री अम्बा प्रसाद,  विधायक  अमित कुमार यादव,  विधायक उमाशंकर अकेला, मुख्यमंत्री के सचिव विनय कुमार चौबे, हजारीबाग उपायुक्त श्रीमती नैन्सी सहाय,उत्तरी छोटानागपुर प्रमण्डल एवं प्रमंडल के जिलों के पदाधिकारी, बड़ी संख्या में के.सी.सी. लाभुक एवं आम जनता उपस्थित रहे।

यह भी पढ़ें: Commonwealth Games 2022 का आज रंगारंग आगाज, भारत के सामने 2010 के सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन को दोहराने की चुनौती

Related posts

Netflix Subscribers: Netflix के लाखों सब्सक्राइबर्स हुए कम, अब जल्द सस्ते प्लान लॉन्च कर सकती है कंपनी

Sumeet Roy

Happy Birthday LK: आडवाणी ने काटा केक, वेंकैया, पीएम, शाह, नड्डा और राजनाथ ने मनाया जन्मदिन

Pramod Kumar

हाल नियोजन कार्यालय का: प्राइवेट कंपनियों के भरोसे कार्यालय, अस्थायी सरकारी नौकरी भी नहीं मिलती

Manoj Singh