समाचार प्लस
Breaking झारखण्ड देश

Jharkhand: मुख्यमंत्री हेमंत के प्रयास रंग लाया, सम्मेद शिखरजी पर बदला केंद्र ने फैसला

Jharkhand: Chief Minister's efforts paid off, center changed decision on Sammed Shikharji

न्यूज डेस्क/ समाचार प्लस – झारखंड-बिहार

मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन द्वारा श्रीसम्मेद शिखरजी को लेकर केंद्रीय पर्यावरण, वन एवं जलवायु परिवर्तन विभाग के मंत्री भूपेंद्र यादव को पत्र लिखा था। उसपर मंत्रालय ने त्वरित संज्ञान लेते हुए इको सेंसेटिव जोन अधिसूचना के खंड 3 के प्रावधानों के कार्यान्वयन पर तत्काल रोक लगा दी है, जिसमें  पर्यटन और इको टूरिज्म गतिविधियां शामिल हैं। बता दें कि मुख्यमंत्री हेमन्त सोरेन ने पत्र लिख जैन अनुयायियों की धार्मिक भावनाओं को ध्यान में रखते हुए वन, पर्यावरण एवं जलवायु परिवर्तन मंत्रालय, भारत सरकार की अधिसूचना संख्या का.आ. 2795 (अ) दिनांक 02.08.2019 के संदर्भ में समुचित निर्णय लेने का आग्रह किया था।

मुख्यमंत्री ने पत्र के माध्यम से कहा था कि पारसनाथ सम्मेद शिखर पौराणिक काल से जैन समुदाय का विश्व प्रसिद्ध पवित्र एवं पूजनीय तीर्थ स्थल है। मान्यता के अनुसार इस स्थान पर जैन धर्म के कुल 24 तीर्थंकरों में से 20 तीर्थंकरों द्वारा निर्वाण प्राप्त किया गया है। इस स्थल के जैन धार्मिक महत्व के कारण भारत एवं विश्व के कोने-कोने से जैन धर्मावलंबी यहां तीर्थ करने आते हैं।

यह भी पढ़ें: सम्मेद शिखरजी पर केंद्र का बड़ा फैसला, सम्मेद शिखर नहीं होगा पर्यटन क्षेत्र

Related posts

कृष्ण का बाल रूप तो माताओं को बहुत भाता है, लेकिन पति का कृष्ण रूप …

Manoj Singh

भाई दूज: भाई की लम्बी उम्र की कामना पर कन्फ्यूजन! 26 या 27 अक्टूबर बहनें कब करें भाई का तिलक

Pramod Kumar

Uttarakhand: चंपावत में चैम्पियन बने पुष्कर सिंह धामी, कांग्रेस को दी ऐसी करारी हार जो बन गया इतिहास

Pramod Kumar