समाचार प्लस
Breaking झारखण्ड फीचर्ड न्यूज़ स्लाइडर राँची

Tribal Festival: जनजातीय महोत्सव पर मांदर की थाप पर गूंज उठा झारखंड केंद्रीय विश्वविद्यालय

Jharkhand: Central University echoed on the beat of temple on Tribal Festival

Tribal Festival: मंगलवार को ब्राम्बे स्थित झारखण्ड केंद्रीय  विश्वविद्यालय में विश्व आदिवासी दिवस मनाया गया।  कार्यक्रम का शुभारंभ प्रभारी कुलपति प्रो. डॉ आरके डे ने आदिवासी वाद्ययंत्र मांदर पर पुष्प अर्पित कर किया। प्रो. डे ने इस अवसर पर संदेश देते हुए यह  कहा कि हमें आदिवासियों से सादगी और ईमानदारी की  शिक्षा लेनी चाहिए। कार्यक्रम को आगे बढ़ाते हुए विश्वविद्यालय के छात्रों  ने उरांव स्वागत गीत प्रस्तुत  किया। नैनोटेक्नोलाजी विभाग के सहायक प्रो. डॉ. रमेश उरांव ने बताया कि आदिवासी दिवस क्यों मनाया जाता है और साथ इस दिन के महत्व को भी बताया। इसके पश्चात जन संचार विभाग के सहायक प्रो. डॉ. अमृत कुमार ने आदिवासियों के ‘जल जंगल जमीन’ की सोच के बारे में बताया, साथ ही उनके प्राकृति प्रेम को भी बताया।

वहीं विश्वविद्यालय में कार्यरत ग्रामीण आदिवासी महिलाओं ने उरांव गीत एवं संगीत प्रस्तुत किया। विश्व आदिवासी दिवस के मौके पर फोटोग्राफी एवं चित्रकारी की  प्रतियोगिता रखी गयी थी। चित्रकारी में शिक्षा विभाग के मनीषा सतपति एवं प्रेमजन प्रधान को पुरस्कृत किया गया। वही  फोटोग्राफी में कोरियन विभाग की याशिका लकड़ा को पुरस्कृत किया गया।

इस मौके पर विश्वविद्यालय की सहायक प्रो. डॉ निर्मली बोरदोलोई , सहायक प्रो० साइमन वातरे संगमा  सहित विश्वविद्यालय शोधार्थी, विद्यार्थी, सहित अन्य लोग मौजूद रहे।

कार्यक्रम का संचालन अर्जुन माझी, संतोष उराँव, बबन तिग्गा, सिदाम हांसदा, प्रशांत टुडू , बिनीता तिग्गा, साक्षी, एवं अन्य छात्रों द्वारा किया गया।

यह भी पढ़ें: Jharkhand: तुम जियो हजारों साल… Happy Birthday CM Hemant Soren!

यह भी पढ़ें: 22 साल में 8वीं बार बिहार के मुख्यमंत्री बने नीतीश कुमार, तेजस्वी ने ली डिप्टी सीएम पद की शपथ

Tribal Festival

Related posts

Bihar Politics: बिहार में होने वाला है बड़ा सियासी बदलाव! शाहनवाज हुसैन, रविशंकर प्रसाद दिल्ली तलब

Manoj Singh

Lalji Yadav Death Case : CBI जांच के लिए जनहित याचिका दायर, मंत्री मिथिलेश ठाकुर, पलामू SP, डीटीओ और एसडीपीओ को बनाया पार्टी

Manoj Singh