समाचार प्लस
Breaking झारखण्ड फीचर्ड न्यूज़ स्लाइडर

Jharkhand: स्थानीय नीति बनने के बाद निजी क्षेत्र में रोजगार देने की तैयारी, कल समारोह में सीएम बांटेंगे ऑफर लेटर

Jharkhand: After the formation of local policy, preparations for providing employment in the private sector are complete.

न्यूज डेस्क/ समाचार प्लस – झारखंड-बिहार

झारखंड की हेमंत सरकार ने निजी क्षेत्रों में 75 फीसदी आरक्षण की घोषणा की थी, अब उसे धरातल पर उतारने का वक्त आ गया है। शनिवार को मोरहाबादी मैदान में मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन करीब दस हजार युवाओं को ऑफर लेटर सौंपेंगे। एक भव्य कार्यक्रम में मुख्यमंत्री हेमंत ऑफर लेटर का वितरण करेंगे। कार्यक्रम की सारी तैयारियां पूरी हो चुकी हैं। कार्यक्रम स्थल मोरहाबादी मैदान में करीब 12 हजार लोगों की उपस्थिति में मुख्यमंत्री नियुक्ति पत्र वितररित करेंगे। मुख्यमंत्री के सचिव विनय कुमार चौबे सहित आला अधिकारी ने कार्यक्रम की तैयारियों का जायजा लेकर जिला प्रशासन के अधिकारियों को आवश्यक निर्देश जारी कर दिये हैं। इसके अलावा मंच को आकर्षक ढंग से तैयार किया गया है। इस मौके पर सरकार द्वारा निजी क्षेत्र में नियोजन को लेकर तैयार की गयी नियमावली को विशेष रूप से प्रदर्शित किया जायेगा।

इस तरह वितरित किये जायेंगे नियुक्ति पत्र

नियुक्ति पत्र वितरण समारोह में करीब दस हजार युवाओं को निजी क्षेत्र में नौकरियां का ऑफर लेटर दिया जाएगा। जिन्हें नियुक्ति पत्र दिया जाना है, वे सभी अभ्यर्थी समारोह स्थल पर उपस्थित रहेंगे। इन अभ्यर्थियों के जिलावार बैठने की व्यवस्था समारोह स्थल पर की गयी है। मुख्यमंत्री सिर्फ 25 अभ्यर्थियों को सांकेतिक रू से ऑफर लेटर प्रदान करेंगे। श्रम विभाग की नियोजन पदाधिकारी नीरु कुमारी ने बताया कि समारोह में नगर विकास, कल्याण विभाग एवं कौशल विकास विभाग द्वारा भी चयनित अभ्यर्थियों को नियुक्ति पत्र दिया जाएगा।

यह भी पढ़ें: Vaccination: देश में आज से फ्री में लग रहा है Covid-19 बूस्टर डोज, झारखंड इस कारण से शुरू नहीं कर सका अभियान

Related posts

Shama Sikander ने बढ़ाया सोशल मीडिया का पारा, बेहद बोल्ड पोज देती नजर आई अभिनेत्री

Sumeet Roy

MS Dhoni ने Atharva: The Origin का टीजर किया रिलीज, ‘महादेव’ जैसा लुक

Manoj Singh

रांची की मेयर आशा लकड़ा और बिहार के ऋतुराज सिन्हा भाजपा की केन्द्रीय टीम में, बनाये गये राष्ट्रीय मंत्री

Pramod Kumar