समाचार प्लस
Breaking झारखण्ड फीचर्ड न्यूज़ स्लाइडर

Jharkhand: हेमंत सोरेन के पूर्व ओएसडी पर कसेगा एसीबी का शिकंजा? मांगी प्राथमिकी दर्ज करने की अनुमति

Jharkhand: ACB's screws on Hemant's former OSD? Permission sought

न्यूज डेस्क/ समाचार प्लस – झारखंड-बिहार

झारखंड के सीएम हेमंत सोरेन के पूर्व ओएसडी रहे गोपाल तिवारी के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज करने के लिए भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो (एसीबी) ने मंत्रिमंडल सचिवालय एवं निगरानी विभाग से अनुमति मांगी है। पिछले डेढ़ साल में यह एसीबी का तीसरा रिमाइंडर है। एसीबी की प्रारंभिक जांच (पीई) में गोपाल तिवारी पर आय से अधिक संपत्ति अर्जित करने के आरोप की पुष्टि हुई थी। इसकी पुष्टि होने के बाद एसीबी ने मंत्रिमंडल निगरानी एवं सचिवालय विभाग से डेढ़ साल पहले भी प्राथमिकी दर्ज करने की अनुमति मांगी थी। एसीबी ने एक बार फिर प्राथमिकी की अनुमति मांगी है। डेढ़ साल के भीतर एसीबी का यह तीसरा रिमाइंडर है।

गोपाल तिवारी पर पद का दुरुपयोग कर आय से अधिक (21.55 करोड़ रुपये) सम्पत्ति अर्जित करके जमीन व फ्लैट में निवेश करने का आरोप था। 2020 में मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन गोपाल तिवारी को उनके पद से हटाते हुए उनपर लगे आरोपों की जांच के आदेश दिए थे।

यह भी देखें: 1932 के खतियान से अपनी अस्मिता का रोना रोने वाले झारखंड की छाती पर मूंग दल रहे 15 लाख बांग्लादेशी

Related posts

Kartavya Path: मोदी सरकार का बड़ा फैसला, राजपथ और सेंट्रल विस्टा के लॉन का नाम बदला, अब ‘कर्तव्य पथ’ से जाना जाएगा

Manoj Singh

Navratri: सम्पूर्ण जगत की जननी हैं मां कूष्मांडा

Pramod Kumar

दानापुर मंडल में 32 की जगह चल रहीं सिर्फ 17 जोड़ी पैसेंजर ट्रेनें, यात्रियों की मुश्किलें बढ़ीं

Manoj Singh