समाचार प्लस
Breaking झारखण्ड फीचर्ड न्यूज़ स्लाइडर

Jharkhand: कृषि क्लस्टर के रूप में विकसित होंगे राज्य के 100 गांव, 58 लाख बिरसा किसानों को समृद्ध करने की दिशा में बढ़े कदम

Jharkhand: 100 villages of the state will be developed as agriculture cluster

न्यूज डेस्क/ समाचार प्लस – झारखंड-बिहार

राज्य के कृषि मंत्री बादल ने कहां की कृषि योजनाओं के कार्यान्वयन में किसी भी प्रकार की त्रुटि ना रहे और उसकी क्लोज मॉनिटरिंग की जा सके इसके लिए प्रदान नामक संस्था के साथ विभाग ने एक एमओयू किया है इसके तहत राज्य के किसानों को आत्मनिर्भर बनाने की दिशा में कदम बढ़ाए जा रहे हैं। वह आज नेपाल हाउस में प्रदान संस्था के साथ विभाग के एमओयू कार्यक्रम के दौरान बोल रहे थे।

बादल ने कहा कि कृषि के क्षेत्र में मिसिंग ऐप को पूरी तरह से धरातल पर उतारने के लिए रिसोर्स पर्सन का सहयोग लेने के लिए प्रदान के साथ एमओयू किया गया है। प्रदान संस्था कृषि के क्षेत्र में अपनी निशुल्क सेवाएं कृषि विभाग को देगा इससे किसी भी प्रकार के राजस्व का  अतिरिक्त बोझ सरकार पर नहीं आएगा । उन्होंने बताया कि प्रदान संस्था योजनाओं को सफलीभूत बनाने के लिए बनाने के लिए क्षेत्र के मौसम के अनुसार योजनाएं तैयार कर विभाग को सुझाव देगा और अन्य राज्यों में कृषि पद्धति का आकलन कर महत्वपूर्ण सुझाव भी प्रदान संस्थान द्वारा दिए जाएंगे। उन्होंने बताया कि कृषि कलेक्टर के रूप में पूरे राज्य में 100 गांव को मॉडल विलेज के रूप में विकसित किया जाएगा। प्रदान संस्था मुख्य रूप से एफपीओ को क्रियान्वित करेगा साथ ही कृषि उत्पाद को बाजार उपलब्ध कराएगा एवं कृषि से जुड़े जागरूकता अभियान में अपनी भूमिका निभाएगा।

प्रधान संस्था के पदाधिकारी बिंजू इब्राहिम ने बताया कि किसानों के पास प्रभावशाली तरीके से पहुंचना ही लक्ष्य है छोटी-छोटी सिविल सोसाइटी संगठन मिलकर सरकार के लिए काम करते हैं। ऐसे आर्गेनाईजेशन को जोड़कर ही कृषि के क्षेत्र को क्लस्टर का रूप देने का प्रयास किया जाएगा। जल प्रबंधन पशुधन आदि कई योजनाओं पर काम करेंगे। कृषि के क्षेत्र में  निवेशकों लाया जाएगा।

मेमोरेंडम ऑफ अंडरस्टैंडिंग (एमोयू) के दौरान मुख्य रूप से कृषि विभाग के सचिव श्री अबू बकर सिद्दीकी, संयुक्त सचिव श्री विधान चंद्र चौधरी सहित प्रदान संस्था के कई पदाधिकारी उपस्थित थे।

यह भी पढ़ें: Jharkhand: Ombudsman App से मनरेगा शिकायतों का होगा निष्पादन, मनरेगा आयुक्त ने लोकपाल से ली जानकारी

Related posts

Neha Malik Photos: भोजपुरी एक्ट्रेस ने खिंचवाईं ऐसी तस्वीरें, चढ़ गया Internet का पारा

Sumeet Roy

Sahara India में झारखंड के ढाई लाख लोगों के 3 हजार करोड़ रुपये फंसे, हेल्पलाइन नंबर 112 पर फोन कर दर्ज करा सकते हैं शिकायत

Manoj Singh

Jharkhand School Row: जामताड़ा के बाद अब दुमका में 33 स्कूलों में जुमे के दिन छुट्टी, आखिर क्यों दिया जा रहा स्कूलों को मजहबी रंग?

Manoj Singh