समाचार प्लस
Breaking अपराध झारखण्ड फीचर्ड न्यूज़ स्लाइडर

ज्वेलरी चोरी मामला: ओपी प्रभारी, सब इंस्पेक्टर व चालक जेल भेजे गए

ज्वेलरी चोरी मामला: ओपी प्रभारी, सब इंस्पेक्टर व चालक जेल भेजे गए

सिमडेगा से शंभू कुमार सिंह की रिपोर्ट 

छत्तीसगढ़ के रायपुर नवकार ज्वेलर्स में हुए चोरी के मामले में बांसजोर थाना प्रभारी पर चोरी का सोना गायब करने के मामले में कार्रवाई करते हुए पुलिस अधीक्षक डॉ शम्स तबरेज ने बांसजोर के पूर्व ओपी प्रभारी आशीष कुमार, सब इंस्पेक्टर संदीप कुमार एवं चालक आरक्षी मोहम्मद रजा खान को गिरफ्तार कर रविवार को जेल भेज दिया। ज्ञात हो कि 10 अक्टूबर को ही एसपी तबरेज ने बांसजोर ओपी प्रभारी आशीष कुमार सहित अन्य पुलिसकर्मियों को निलंबित करते हुए एसआईटी टीम गठित की थी । एसआईटी के द्वारा मामले की जांच की जा रही है ।

आवास में हाथ काट कर आत्महत्या करने का प्रयास किया

बांसजोर थाना में चोरों से जब्त जेवरात गायब करने के आरोपी बासजोर ओपी प्रभारी एसआई आशीष कुमार ने शनिवार को अपने आवास में हाथ काट कर आत्महत्या करने का प्रयास किया। घटना के पता चलने के बाद पुलिस अफसरों ने आशीष कुमार को बचा लिया। इस घटना से पूर्व आशीष कुमार ने सुसाइड नोट भी लिखा था । बताते चलें कि आशीष कुमार 2018 बैच के सब इंस्पेक्टर हैं और उस पर रायपुर की ज्वेलरी के दुकान से चोरी करके भाग रहे चोरों से जब्त जेवरात में से कुछ हिस्सा गायब करने का आरोप है।

मुझसे गलती हो गई. इसलिए मां-भाई माफ कर दें

एसआई ने सुसाइड नोट में लिखा है कि मुझसे गलती हो गई. इसलिए मां-भाई माफ कर दें। अपने दोस्त और बैचमेंट से भी माफी मांगते हुए यह लिखा है कि अनजाने से गलती हो गई है । उसने लिखा है कि उसकी गलती पकड़ी गई है इस कारण से वह सिमडेगा एसपी से नजरें नहीं मिला पा रहे हैं। अब सिमडेगा एसपी मेरे बारे में क्या सोच रहे होंगे। उसने एसआईटी टीम को भी पूछताछ में यह बताया है कि वह ओपी में पदस्थापित एएसआई योगेंद्र शर्मा के बहकावे में नहीं आता, तो यह गलती नहीं करता ।

साहेबगंज और गया में अलग-अलग छापेमारी में लगी एसआईटी टीम कोई सोना या चांदी बरामद नहीं कर पायी। आशीष कुमार ने पूछताछ में बताया कि चेकिंग के दौरान पकड़े जाने के बाद जब एक आरोपी स्कॉर्पियो से उतरने के बाद भागा था तो उसके पास एक बैग भी था, इसलिए पुलिस को इस बिंदु पर आशंका है कि भागने वाले आरोपी के पास भी कुछ जेवरात रह गए होंगे ।

आशीष कुमार के इस कारनामे ने सिमडेगा पुलिस ही नहीं, बल्कि झारखंड पुलिस की किरकिरी करा दी। जिसको लेकर राज्य के वरीय पुलिस अधिकारियों की देखरेख में इस केस का अनुसंधान चल रहा है। हालांकि सिमडेगा एसपी ने कहा है इस मामले में सभी प्रकार की बिंदुओं का पर्दाफाश करते हुए दोषी व्यक्ति पर कार्रवाई की जाएगी।

ये भी पढ़ें :Latehar: पहली झारखंड राज्य ओपन बिलियर्ड्स एंड स्नूकर चैंपियनशिप के विजेता बने शहबाज असलम

 

Related posts

IND vs NZ : रांची T-20 में भारत की जीत, पंत ने लगाया विजयी छक्का, सीरीज पर भी कब्जा

Sumeet Roy

Parliament में हंगामा : लोकतंत्र की तस्वीर को तार- तार करने से बाज नहीं आते माननीय, जनता की भावनाओं और देश के पैसे से होता है खिलवाड़

Manoj Singh

अगर FREE में IPL देखना है तो Airtel का ये प्लान है बेहद खास, जानें इस Plan की पूरी Detail

Rohit Kumar

Leave a Comment

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.