समाचार प्लस
Breaking देश फीचर्ड न्यूज़ स्लाइडर

Indian Railways Big Announcement : अब किराए पर लेकर कोई भी चलवा सकता है ट्रेन

Indian Railways Big Announcement : अब किराए पर लेकर कोई भी चलवा सकता है ट्रेन

न्यूज़ डेस्क / समाचार प्लस झारखंड -बिहार

Indian Railways Big Announcement : रेलवे मंत्री अश्विनी वैष्णव ने गौरव ट्रेन चलाने को लेकर भी घोषणा कर दी है. इस पर जानकारी देते हुए उन्होंने कहा कि गौरव ट्रेन भारत की संस्कृति विरासत को प्रदर्शित करने वाली थीम पर आधारित रहेगी. उन्होंने बताया कि रेलवे ने इसके लिए 190 ट्रेनों का आवंटित किया है. रेल मंत्री ने कहा कि यदि इस योजना मैं लोगों का अच्छा रिस्पांस मिलेगा तो इन ट्रेनों की संख्या बढ़ाई भी जा सकेगी.

भारतीय रेलवे (Indian Railway) ने अब रेल की यात्रा करने वालों को एक खास ऑफर दिया है. अब देश में एक ऐसी योजना शुरू होने जारी रही है जिसके तहत कोई भी राज्य या व्यक्ति ट्रेनों को किराए पर ले सकता था और इन ट्रेनों को ‘भारत गौरव ट्रेन’ (Bharat Gaurav Train) नाम दिया गया है. ट्रेनों को लेने के लिए कुछ तय शर्तों को पूरा करना होगा और रेलवे इसके बदले उनसे न्यूनतम किराया वसूल करेगी.

देश में चलेंगी भारत गौरव ट्रेनें

देश में फिलहाल 180 भारत गौरव ट्रेनें चलाने की योजना है और इसमें तीन हजार से ज्यादा कोच होंगे. रेलवे ने इसके लिए आज से आवेदन लेने की प्रक्रिया शुरू भी कर दी है और उन्हें काफी अच्छी प्रतिक्रिया भी मिल रही है.

रेलवे के मुताबिक भारत गौरव ट्रेनों का संचालन प्राइवेट सेक्टर और आईआरसीटीसी दोनों की ओर से किया जा सकता है. साथ ही टूर ऑपरेटर की ओर से इसका किराया तय किया जाएगा. यह ट्रेनें भारत की संस्कृति, विरासत को प्रदर्शित करने वाली थीम पर आधारित होंगी, लगभग 180 ट्रेन इसके लिए निर्धारित की गई हैं. यात्री, माल ढुलाई के बाद रेलवे पर्यटन के लिए ट्रेनों का तीसरा सेगमेंट शुरू करने जा रहा है.

टूरिज्म को बढ़ावा देना मकसद

रेल मंत्री अश्विनी वैष्णव ने योजना का ऐलान करते हुए कहा कि स्टेकहोल्डर्स इन ट्रेनों को मॉर्डन बनाएंगे और चलाएंगे जबकि रेलवे इन ट्रेनों के मेंटेनेंस, पार्किंग और अन्य सुविधाओं को मुहैया कराने का काम करेगा. उन्होंने कहा कि यह रेगुलर ट्रेन सर्विस की तरह नहीं होगी और न ही ये आम ट्रेन सर्विस है. भारत गौरव ट्रेनों का मुख्य उद्देश्य भारत में पर्यटन को बढ़ावा देना है.

रेल मंत्री ने कहा कि अभी सिर्फ पर्यटन को फोकस रख कर इन ट्रेनों का संचालन शुरू किया जा रहा है. प्रधानमंत्री ने कहा है कि रेलवे को भारतीय संस्कृति और सभ्यता से जोड़ा जाए, यही वजह है कि भारत के गौरव को दिखाने के लिए रेलवे शुरू की जाएगी. आज से आवेदन लेना शुरू हो चुका है और ये विशेष ट्रेनें कोई भी राज्य, व्यक्ति या संस्था संचालित कर सकेगी.

ये भी पढ़ें :International Emmy Award 2021: अवॉर्ड से चूके वीर दास-नवाजुद्दीन सिद्दीकी, ‘आर्या’ भी नाकामयाब

 

Related posts

झारखंड के स्वास्थ्य मंत्री की केंद्र से डिमांड, इन्हें मिले पद्म विभूषण का सम्मान

Sumeet Roy

संस्कृत दिवस: कम्प्यूटर की कूट भाषा के लिए सर्वोत्तम विश्व की सबसे पुरानी वेद भाषा संस्कृत

Pramod Kumar

देशभर में कुख्यात साइबर अपराधियों के गढ़ जामताड़ा से 9 साइबर अपराधी पकड़ाये, हिमाचल प्रदेश पुलिस भी पहुंची

Manoj Singh

Leave a Comment

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.