समाचार प्लस
Breaking अंतरराष्ट्रीय फीचर्ड न्यूज़ स्लाइडर

आस्ट्रेलिया से लेकर अमेरिका तक दिखी भारतीय संस्कृति, बिखरी छठ महापर्व की छटा

Indian culture seen from Australia to America, scattered the shade of Chhath festival

न्यूज डेस्क/ समाचार प्लस – झारखंड-बिहार

डूबते और उगते सूर्य को अर्घ्य देने के साथ छठ महापर्व सम्पन्न हो गया। छठ वैसे तो भारत, खासकर बिहार, उत्तर प्रदेश और झारखंड का महापर्व है, लेकिन अब यह सीमाएं लांघता हुआ पूर्व में आस्ट्रेलिया से पश्चिम में अमेरिका तक जा पहुंचा है। वैसे तो हर पर्व-त्यौहार पर विदेशों में भारतीयता की अलग निराली छटा बिखर जाती है, अब छठ महापर्व पर वही रंग विदेशों में भी दिखने लगा है। ऐसा ही इस बार छठ महापर्व पर हुआ। पहले डूबते, फिर उगते सूर्य को अर्घ्य देने के लिए दुनिया के कई देशों में भारतीय नदियों, सरोवरों पर एकत्र थे। कई भारतीयों ने घरों में ही टब आदि में भगवान भास्कर को अर्घ्य देकर इस महापर्व को मनाया। ऐसा प्रचलन आजकल भारत में भी शुरू हो गया है।

अमेरिका में तीसरे और चौथे दिन सूर्य को अर्घ्य देकर लोक आस्था के इस महापर्व को मनाया। ऐसा नजारा अमेरिका के विभिन्न शहरों में दिखा। कुछ पल के लिए तो ऐसा लगा जैसे हम भारत के किसी शहर में हों। भारतीय अमेरिकी कैलिफोर्निया, एरिजोना, कनेक्टिकट, मैसाचुसेट्स, न्यू जर्सी, टेक्सास, उत्तरी कैरोलिना और वाशिंगटन डीसी आदि के नदियों और झीलों में सूर्य भगवान को अर्घ्य देने के लिए एकत्र हुए। अमेरिका के दूसरे राज्यों में छठ पर्व पर उत्साह देखने को मिला। बता दें, हर बार की भांति इस बार भी बिहार-झारखंड एसोसिएशन ऑफ नॉर्थ अमेरिका (बीजाणा) ने थॉम्पसन पार्क, मुनरो, न्यू जर्सी सहित देश भर में छठ पूजा का आयोजन किया।

यह तो हुई अमेरिका की बात। आस्ट्रेलिया जहां भारतीयों की संख्या बहुतायत है, उन्होंने भी उसी प्रकार वहां छठ मनाया जिस प्रकार भारत में लोग छठ पर्व मानेते हैं। वहां भी लोगों ने नदियों, सरोवरों में एकत्र होकर डूबते और उगते सूर्य को अर्घ्य दिया। कनाडा, दुबई, जापान, यूरोप के कई देशों, एशिया के अन्य देशों  में भी छठ पर्व मनाने की खबरें मिली हैं।

यह भी पढ़ें: चीनी लोन ऐप्स से आत्महत्याओं ने गृह मंत्रालय के कान किये खड़े, राज्यों से कहा- ‘इनसे निबटें’

Related posts

SDO Promotion Case : झारखंड हाईकोर्ट ने जताई नाराजगी, “प्रोन्नति पर रोक नहीं हटी तो मुख्य सचिव देंगे जवाब”

Manoj Singh

Voting: धीरे-धीरे पुरुषों से आगे निकल गयीं महिलाएं, 1971 के मुकाबले 235% बढ़ीं महिला मतदाता

Pramod Kumar

Illegal Mining: झारखंड में अवैध खनन हुआ तो अफसरों की खैर नहीं, खनन से जुड़े माफियाओं के खिलाफ होगी सख्त कार्रवाई- Hemant Soren

Sumeet Roy