समाचार प्लस
Breaking अंतरराष्ट्रीय देश फीचर्ड न्यूज़ स्लाइडर

भारत को होना चाहिए सुरक्षा परिषद का स्‍थाई सदस्‍य, पहली मुलाकात में पीएम मोदी से बोले बाइडेन

भारत को होना चाहिए सुरक्षा परिषद का स्‍थाई सदस्‍यबोले बाइडेन

न्यूज डेस्क/ समाचार प्लस – झारखंड-बिहार

पीएम मोदी से पहली ही मुलाकात में अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडेन ने कह दिया- ‘भारत को होना चाहिए संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद का स्थायी सदस्य’। अमेरिका का राष्ट्रपति बनने के बाद जो बाइडेन की प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी से यह पहली व्यक्तिगत मुलाकात है। नरेंद्र मोदी और जो बाइडन ने शुक्रवार को व्हाइट हाउस में पहली बार द्विपक्षीय मुलाकात की। इस दौरान दोनों नेताओं ने आमने-सामने विभिन्‍न मुद्दों पर वार्ता की। पीएम मोदी और अमेरिकी राष्ट्रपति ने आतंकवाद और अफगानिस्तान पर विशेष रूप से चर्चा की। आतंकवाद एक महत्वपूर्ण मुद्दा है यह मानते हुए दोनों नेताओं ने आतंकवाद से लड़ने के लिए प्रतिबद्धता जतायी। इसी मुलाकात में अमेरिकी राष्‍ट्रपति बाइडेन ने कहा कि भारत को संयुक्‍त राष्‍ट्र की सुरक्षा परिषद का स्‍थाई सदस्‍य होना चाहिए।

अफगानिस्तान में आतंकवाद को लेकर चर्चा

बैठक के दौरान दोनों देशों ने अफगानिस्तान में आतंकवाद से लड़ाई के महत्व पर चर्चा की। उन्होंने कहा कि तालिबान को UNSC प्रस्ताव 2593 के प्रति अपनी प्रतिबद्धता का ध्यान रखना चाहिए और अफगान क्षेत्र का इस्तेमाल आतंकी गतिविधियों के लिए नहीं होना चाहिए।

 

जो बाइडन, राष्ट्रपति, अमेरिका
भारत और अमेरिका के बीच रिश्ते और मजबूत और करीब होंगे। मेरा मानना है कि इससे पूरी दुनिया को फायदा हो सकता है। हमारी साझेदारी, जो हम करते हैं, उससे कहीं अधिक है। भारत-अमेरिका के रिश्तों के इतिहास में नया अध्याय लिख रहे हैं।
नरेन्द्र मोदी, प्रधानमंत्री, भारत
भारत और अमेरिका के रिश्तों में अगला दशक बदलाव का दौर होगा। लोकतांत्रिक मूल्यों और परंपराओं के संदर्भ में इसकी महत्ता बढ़ती ही जाएगी। भारत और अमेरिका के रिश्ते और मजबूत होंगे और दोनों देशों के बीच साझेदारी लोकतांत्रिक मूल्यों को बनाए रखने और विविधता के प्रति उनकी साझी प्रतिबद्धता के बारे में है।
बैठक में इन मुद्दों पर हुई चर्चा

बैठक में जो बाइडन ने कोरोना महामारी, जलवायु परिवर्तन और क्वाड के मुद्दे पर बातचीत की। वहीं मोदी ने प्रतिभा, तकनीक और व्यापार आदि पर बातचीत की।

बैठक में इनकी थी उपस्थिति

बैठक में अमेरिकी विदेश मंत्री एंटनी ब्लिंकन, NSA जेक सुलिवान और पर्यावरण पर विशेष दूत जॉन कैरी शामिल हुए।

भारत की तरफ से विदेश मंत्री एस जयशंकर, NSA अजित डोभाल, विदेश सचिव हर्षवर्धन शृंगला और भारतीय राजदूत तरणजीत सिंह संधू ने हिस्सा लिया।

बाइडन को भारत आने का न्यौता

विदेश मंत्रालय ने जानकारी दी कि प्रधानमंत्री मोदी ने जो बाइडन को भारत आने का न्यौता दिया है। मोदी ने कहा कि नई दिल्ली जल्द से जल्द और आपसी सहूलियत के साथ अमेरिकी राष्ट्रपति की यात्रा के लिए तत्पर है।

बता दें कि इस साल जनवरी में बाइडन के राष्ट्रपति बनने के बाद दोनों नेताओं की यह पहली मुलाकात थी। इससे पहले मोदी और बाइडन ने टेलीफोन पर बातचीत की थी और तीन वर्चुअल सम्मेलनों में एक साथ हिस्सा लिया था।

यह भी देखें: BPSC 67वीं भर्ती परीक्षा का नोटिफिकेशन जारी, 555 वैकेंसी, ये हैं खास बातें

Related posts

CM Hemant Soren ने किया विकास योजनाओं का शिलान्यास, कहा – सुंदर रांची के लिए आम जनता की भागीदारी जरूरी

Manoj Singh

Jharkhand News : झारखंड को बिहार की भाषाओं से परहेज, JTET परीक्षा से हटाई जाएंगी ये भाषाएं

Manoj Singh

कल्याण विभाग के सचिव ने की छात्रवृत्ति मामलों की समीक्षा, छात्रवृत्ति आवेदन की तिथि बढ़ी

Manoj Singh

Leave a Comment

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.