समाचार प्लस
Breaking खेल देश फीचर्ड न्यूज़ स्लाइडर

Ind v NZ Test: कानपुर में बची न्यूजीलैंड की नाक, जीत से एक विकेट दूर रह गयी टीम इंडिया

India New Zealand 1st Test Drawn

न्यूज डेस्क/ समाचार प्लस – झारखंड-बिहार

3 टेस्ट मैचों की सीरीज के पहले और कानपुर टेस्ट में टीम इंडिया जीत से एक विकेट दूर रह गयी। न्यूजीलैंड की दूसरी पारी में आखिरी बल्लेबाजों के संघर्ष और बैड लाइट के कारण टीम इंडिया को निराश होना पड़ा। बता दें, न्यूजीलैंड वर्तमान में पहले टेस्ट चैम्पियनशिप की विजेता टीम है।

टेस्ट मैच के पांचवें और अंतिम दिन के पहले सेशन में न्यूजीलैंड का जब कोई भी विकेट नहीं गिया तब भारतीय टीम निराश हो गया, लेकिन इसके बाद के दोनों सेशन में भारतीय गेंदबाजों ने शानदार प्रदर्शन करके मैच को अपनी मुट्ठी में कर भी लिया था। लेकिन भारतीय मूल के दो बल्लेबाजों रचिन्द्र रवीन्द्र और एजाज पटेल ने आखिरी के 8.4 ओवरों का खेल सुरक्षित निकाल कर टीम इंडिया को निराश कर दिया।

मैच की चौथी पारी में न्यूजीलैंड को जीत के लिए 285 रनों की दरकार थी। न्यूजीलैंड ने आज 4 रन पर 1 विकेट से आगे अपनी दूसरी पारी बढ़ायी। लंच तक बिना कोई विकेट खोये स्कोर को 79 रनों तक पहुंचा दिया। लंच और चायकाल के बीच में न्यूजीलैंड ने तीन विकेट खो दिये। मैच अब भारत की ओर झुक गया था। इसका फायदा उठाते हुए भारत ने एक के बाद एक विकेट झटकते हुए स्कोर को 9 विकेट पर 156 रनों तक पहुंचा दिया था। यहां पर न्यूजीलैंड का जीतना तो असंभव था, लेकन भारत एक विकेट लेकर यह मैच जीत सकता था, परन्तु आखिरी जोड़ी के रूप में मैदान पर रचिन्द्र रवीन्द्र और एजाज पटेल जम गये। 8.4 ओवरों तक और कोई विकेट नहीं गिरने दिया। हालांकि अभी 2 या 3 ओवर और फेंके जा सकते थे, लेकिन अम्पायरों ने बैड लाइट के कारण मैच को वहीं खत्म घोषित कर दिया।

बता दें, भारत ने पहली पारी में श्रेयस अय्यर के 105 रनों की शतकीय पारी की मदद से 345 रनों का स्कोर खड़ा किया था। न्यूजीलैंड ने अपनी पहली पारी में 296 रन बनाये थे। भारत को पहली पारी में 49 रनों की बढ़त मिली थी। इसके बाद भारत ने 7 विकेट पर 236 रन बनाकर अपनी दूसरी पारी घोषित कर दी थी। टेस्ट की आखिरी पारी में न्यूजीलैंड के समक्ष जीत की 285 रनों की चुनौती थी। न्यूजीलैंड अपनी दूसरी पारी में 9 विकेट खोकर 165 रन बना सका।

यह भी पढ़ें: Parliament: मॉनसून सत्र में हंगामा करने वाले 12 राज्यसभा सांसद पूरे शीतकालीन सत्र के लिए निलंबित

Related posts

Kartavya Path: मोदी सरकार का बड़ा फैसला, राजपथ और सेंट्रल विस्टा के लॉन का नाम बदला, अब ‘कर्तव्य पथ’ से जाना जाएगा

Manoj Singh

Bihar Politics: बिहार में होने वाला है बड़ा सियासी बदलाव! शाहनवाज हुसैन, रविशंकर प्रसाद दिल्ली तलब

Manoj Singh

झारखंड में क्या वाकई है सुखाड़, अब तक 75 प्रतिशत हो चुकी है मॉनसून की बारिश!

Pramod Kumar