समाचार प्लस
Breaking झारखण्ड फीचर्ड न्यूज़ स्लाइडर राजनीति

झारखंड विस में विधायकों का अफसरों के खिलाफ फूटा गुस्सा, सीपी सिंह ने ADG मीणा को कहा घटिया अफसर, रांची डीसी पर लगाया घूसखोरी का आरोप

Jharkhand assembly

झारखंड विधानसभा(Jharkhand assembly) में मंगलवार को सत्ता पक्ष और विपक्ष के विधायक काफी गुस्से में दिखे . उन्होंने अपना गुस्सा अफसरों के खिलाफ दिखाया. वरिष्ठ भाजपा विधायक ने एडीजी मुरारी लाल मीणा को घटिया अफसर बता दिया. साथ ही रांची के डीसी छवि रंजन को घूसखोर कहा. वहीं कांग्रेस के विधायक अनूप सिंह ने विधायकों की बेईज्जती का मामला उठाया.

रांची के डीसी ने तीन लाख लेकर रिवाल्वर का दिया लाइसेंस- सीपी सिंह

रांची के डीसी ने तीन लाख लेकर रिवाल्वर का लाइसेंस दिया। रांची के विधायक सीपी सिंह ने विधानसभा में आरोप लगाया है।

“डिनर पार्टी में विधायकों को किया गया अपमानित” 

अनूप सिंह ने विधानसभा में कहा कि 21 मार्च की रात राजभवन में डिनर पार्टी थी. डिनर पार्टी में मंत्रियों, विधायकों और अफसरों को आमंत्रित किया गया था. इस डिनर पार्टी में विधायकों को बेइज्जत किया गया. मंत्री और कई बार विधायक रहे सुदेश महतो, लंबोदर महतो, इरफान अंसारी जैसे विधायकों को बैठने तक की जगह नहीं मिली.

“कार्यपालिका ने अपनी जिम्मेदारी सही तरीके से नहीं निभाई”

अनूप सिंह के कहा कि राजभवन की इस घटना से साफ पता चलता है कि कार्यपालिका ने अपनी जिम्मेदारी सही तरीके से नहीं निभाई. इस कारण विधायकों को बेज्जती का सामना करना पड़ा. डिनर के बाद जब विधायक जाने लगे तो रमेश गिरी नाम के पुलिस पदाधिकारी ने सभी विधायकों की गाड़ियों को रुकवा कर एडीजी मुरारी लाल मीना की गाड़ी को अंदर घुसवाया.

विधायिका कार्यपालिका से ऊंची है, समझें ऑफिसर-अनूप सिंह

अनूप सिंह ने कहा कि अधिकारियों को मालूम होना चाहिए कि विधायिका कार्यपालिका से ऊंची है. उन्हें यह मालूम होना चाहिए की डीसी और एसपी का क्या प्रोटोकोल होता है. उन्होंने यह भी कहा कि विधानसभा में भी विधायकों को बेज्जती का सामना करना पड़ता है. स्पीकर, मुख्यमंत्री, मंत्री एक नंबर गेट से घुस जाते हैं, लेकिन जब विधायकों को तीन नंबर गेट से अंदर जाना पड़ता है तब अधिकारी खड़े तक नहीं होते हैं.

ये भी पढ़ें : पेट्रोल डीजल के बाद अब LPG cylinder हुआ महंगा, जानें कितने बढ़े दाम

 

Related posts

1932 के खतियान से अपनी अस्मिता का रोना रोने वाले झारखंड की छाती पर मूंग दल रहे 15 लाख बांग्लादेशी, खुश न हो बिहार

Pramod Kumar

Bharti Singh और Harsh Limbachiyaa के घर आया नन्हा मेहमान, बधाइयों का लगा तांता

Sumeet Roy

Deoghar Ropeway Accident: ‘लग रहा था, ज़िंदा नहीं बचेंगे’, रोपवे में फंसे लोगों ने सुनाई आपबीती

Sumeet Roy