समाचार प्लस
Breaking झारखण्ड देश फीचर्ड न्यूज़ स्लाइडर

पश्चिम बंगाल में पत्थरबाज फिर हिंसा पर उतारू, यूपी में पुलिस उतार रही पत्थरबाजों का नशा, दिल्ली में एफआईआर

In Bengal, stone pelters again resort to violence, in UP, police are taking action against stone pelters

न्यूज डेस्क/ समाचार प्लस – झारखंड-बिहार

भाजपा की निलंबित प्रवक्ता नूपुर शर्मा की विवादित टिप्पणी को लेकर देश के अलग-अलग राज्यों में विरोध अब भी जारी है। पश्चिम बंगाल में शनिवार को दूसरे दिन भी हिंसा हो गयी है। उपद्रवियों ने आज भी पुलिस पर जमकर पत्थरबाजी की है। पश्चिम बंगाल के हावड़ा जिले के पंचला बाजार पुलिस ने जब उपद्रवियों को रोकने की कोशिश की तो उन्हें पत्थरों की चोट सहनी पड़ी। अराजक तत्वों को तितर-बितर करने के लिए पुलिस बलों को आंसू गैस के गोले दागने पड़े। पश्चिम बंगाल में कई आरोपियों की पहचान कर गिरफ्तारी भी हुई है। इस बीच कल की हिंसा के बाद हावड़ा के पुलिस कमीश्नर और ग्रामीण एसपी को हटा दिया गया है।

बता दें, शुक्रवार को जुम्मे की नमाज के बाद पश्चिम बंगाल के अलावा दिल्ली, उत्तर प्रदेश, झारखंड, तेलंगाना सहित कई राज्यों में हिंसा भड़क गयी थी। सभी जगहों पर पुलिस और पत्थरबाजों के बीच जमकर झड़प हुई। झारखंड की राजधानी रांची में हिंसक प्रदर्शन के बाद पुलिस को फायरिंग करनी पड़ी जिसमें 2 लोगों की मौत हो गई।

पत्थरबाजों से उत्तर प्रदेश सबसे अधिक प्रभावित रहा। अलग-अलग हिस्सों में हुई हिंसक वारदात के बात आज पुलिस पूरे एक्शन में है और अलग-अलग जिलों से गिरफ्तारियां कर उन पर जबर्दस्त कार्रवाई भी कर रही है। उपद्रवियों के घरों पर पुलिस ने बुलडोजर भी चलाया। यूपी में अब तक कुल 230 लोगों को हिंसा फैलाने के कारण गिरफ्तार किया गया है। प्रयागराज में हिंसा के मास्टरमाइंड को हिरासत में लिया गया है। वहीं कानपुर में एक आरोपी के घर पर बुलडोजर चला दिया गया। पुलिस ने सहारनपुर में दो आरोपियों के अवैध निर्माण पर पुलिस ने बुलडोजर चलाया है। गिरफ्तार आरोपियों पर एनएसए के तहत कार्रवाई की जायेगी। इतना ही नहीं उपद्रवियों की पहचान कर उन्हें शिकंजे में लेने की तैयारी की जा रही है। मुख्यमंत्री आदित्यनाथ योगी ने पुलिस-प्रशासन को सख्त आदेश दिया है कि उपद्रवियों को बख्शा नहीं जाये। उनके खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाये। प्रयागराज में 5000 अज्ञात लोगों के खिलाफ मामला दर्ज किया गया है।

दिल्ली पुलिस ने जुमे की नमाज के बाद जामा मस्जिद के बाहर प्रदर्शन करने वाले लोगों के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज की है। पुलिस उपायुक्त श्वेता चौहान ने शनिवार को बताया कि भारतीय दंड संहिता की धारा 188 के तहत प्रदर्शनकारियों के खिलाफ मामजा दर्ज किया गया है। पैगंबर मोहम्मद पर टिप्पणी करने के कारण भाजपा द्वारा निलंबित की गई पार्टी प्रवक्ता नुपूर शर्मा और नवीन कुमार जिंदल को तत्काल गिरफ्तार किये जाने की मांग को लेकर शुक्रवार को जामा मस्जिद के बाद भारी संख्या में मुस्लिम समुदाय के लोग जमा हुए थे।

यह भी पढ़ें: Jharkhand: उपद्रव के बाद राजधानी में अगले आदेश तक इंटरनेट सेवा बंद, सड़कों पर छाया सन्नाटा, 24 घंटे गुजरे गिरफ्तारी एक भी नहीं

Related posts

Jharkhand खेल निदेशालय का कमाल, इधर का खिलाड़ी उधर लेगा ट्रेनिंग! ओवर एज, अंडर एज भी सूची में

Pramod Kumar

Jharkhand : पशु प्रेमियों के लिए Attractive Scheme, 5 लाख में हाथी, 3 लाख रुपये में बाघ, शेर और घड़ियाल ऐसे लें गोद

Manoj Singh

Lakhimpur: वे 15 सवाल जिनका मंत्रिपुत्र आशीष मिश्रा ने दिया गोल-गोल जवाब

Pramod Kumar