समाचार प्लस
Breaking देश फीचर्ड न्यूज़ स्लाइडर

बारिश की बूंदों से बनेगी बिजली, IIT दिल्ली को तीन साल की मेहनत के बाद मिली कामयाबी

IIT दिल्ली ने बारिश की बूंदों से विकसित की बिजली बनाने की तकनीक

न्यूज डेस्क/ समाचार प्लस – झारखंड-बिहार

मुफ्त बिजली देने वाली दिल्ली ने मुफ्त में बिजली बनाने का जुगाड़ कर लिया है। आईआईटी दिल्ली ने विभिन्न संस्थाओं के सहयोग से तीन साल की मेहनत के बाद एक नयी तकनीक विकसित की है जिससे  बारिश की बूंदों से बिजली बनायी जा सकेगी। बारिश की बूंदों में मौजूद काइनेटिक एनर्जी और इलेक्ट्रॉनिक चार्ज के जरिए बिजली बनायी जायेगी। आईआईटी दिल्ली जल्द ही इस तकनीकी के पेटेंट की प्रक्रिया शुरू करेगी। पेटेंट हो जाने के बाद यह सम्भव है कि आने वाले समय में छोटी-छोटी मशीनों के जरिये नैनो इलेक्ट्रिसिटी डिवाइस तैयार किये जा सकेंगे जिससे बारिश के दिनों में बिजली तैयार की जा सकेगी। यह तकनीक ट्राइबो इलेक्ट्रिक इफ्केट पर बेस है। ट्राइबो इफेक्ट में दो अलग-अलग मैटेरियल को कांटेक्ट में लाकर बिजली पैदा की जाती है।

भविष्य में बारिश की बूंदों की तरह ही समुद्री लहरों से भी बिजली बनाने की योजना है। अभी तक हाइड्रो पावर प्रोजेक्ट के जरिए बिजली का उत्पादन होता था, जिसे लेकर कई पर्यावरणविद भूस्खलन और भूकंप की आशंकाएं जता चुके हैं। इससे इकोलॉजी में भी नकारात्मक प्रभाव पड़ता है, ऐसे में आईआईटी दिल्ली की नयी तकनीक क्रांतिकारी आविष्कार साबित हो सकती है।

यह भी पढ़ें: फैक्ट्री में इतने घिनौने तरीके से पैक होता है टोस्ट, यकीन मानिए इस Video को देखने के बाद रस्क से हो जाएगी नफरत

Related posts

सीएम हेमंत और कोयला मंत्री के बीच कोल परियोजनाओं और रैयतों के मुआवजे पर विचार-विमर्श

Pramod Kumar

मंत्री हफीजुल हसन ने पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह को जिंदा रहते ही दे दी श्रद्धांजलि

Manoj Singh

Premchand Jayanti: आखिर क्यों राष्ट्रवाद को एक कोढ़ मानते थे प्रेमचंद ?

Sumeet Roy

Leave a Comment

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.