समाचार प्लस
Breaking झारखण्ड देश फीचर्ड न्यूज़ स्लाइडर राँची

Horse Trading : ADG अनुराग गुप्ता को विभागीय जांच में मिली क्लीन चिट

Horse Trading : ADG अनुराग गुप्ता को विभागीय जांच में मिली क्लीन चिट

न्यूज़ डेस्क/ समाचार प्लस झारखंड -बिहार
राज्यसभा हॉर्स ट्रेडिंग मामले में निलंबित चल रहे एडीजी अनुराग गुप्ता को विभागीय जांच में क्लीन चिट मिल गई है। विभागीय कार्रवाई संचालन पदाधिकारी डीजी एमवी राव ने सेवानिवृत्ति से पूर्व राज्य सरकार को अपनी अंतिम रिपोर्ट सौंप दी थी। इस रिपोर्ट में एडीजी अनुराग गुप्ता के विरुद्ध कोई ठोस साक्ष्य नहीं मिलने के कारण उन्हें क्लीन चिट दे दी गई है। अब डीजी एमवी राव की रिपोर्ट की समीक्षा करने के बाद राज्य सरकार अंतिम निर्णय लेगी।

14 फरवरी 2020 हुए थे निलंबित

उधर, अदालत में इस मामले पर सुनवाई जारी है। एडीजी अनुराग गुप्ता पर राज्यसभा चुनाव 2016 में बड़कागांव की तत्कालीन कांग्रेस विधायक निर्मला देवी को पांच करोड़ रुपये का प्रलोभन देने तथा निर्मला देवी के पति पूर्व मंत्री योगेंद्र साव को धमकी देकर भाजपा के पक्ष में वोट डालने के लिए दबाव बनाने का आरोप है। इस आरोप में राज्य सरकार ने 14 फरवरी 2020 को उन्हें निलंबित कर दिया था। तब वे सीआइडी के एडीजी थे।

डिवाइस उपलब्ध नहीं कराए जाने के कारण मिली क्लीन चिट

हार्स ट्रेडिंग मामले में पुलिस को बातचीत के रिकार्डिंग की असली सीडी और जिस उपकरण से बातचीत रिकार्ड की गई, वह डिवाइस उपलब्ध नहीं कराए जाने के कारण एडीजी अनुराग गुप्ता को क्लीन चिट दी गई है। विभागीय जांच रिपोर्ट में आरोप के समर्थन में ठोस व पर्याप्त साक्ष्य उपलब्ध नहीं कराए जाने की बात कही गई है। कांग्रेस की तत्कालीन विधायक निर्मला देवी को धमकाने संबंधित जिस रिकार्डिंग से संबंधित डिजिटल डिवाइस के होने की जानकारी दी गई थी, वह पांच साल के बाद भी न तो पुलिस को सौंपी गई, ना ही कोर्ट में प्रस्तुत किया गया।

29 मार्च 2018 को दर्ज हुई थी प्राथमिकी

एडीजी अनुराग गुप्ता पर भारत निर्वाचन आयोग के आदेश पर 29 मार्च 2018 को प्राथमिकी दर्ज हुई थी।
ये भी पढ़ें :बोले तेज प्रताप – तेज प्रताप नहीं, ‘कैप्टन तेज प्रताप’, ‘मैंने हवाई जहाज उड़ाया है…’

Related posts

100 Crore Vaccine: शशि थरूर ने मोदी सरकार को दिया क्रेडिट तो बिफर पड़े कांग्रेस प्रवक्ता

Manoj Singh

Tokyo Olympics : Kamalpreet Kaur ने Discus throw में जगायी Medalकी उम्मीद, Final का टिकट

Sumeet Roy

liquor Home delievery : क्या बिहार में रुकेगी शराब की होम डिलीवरी? एक हफ्ते के अंदर एक्शन प्लान तैयार करेगा जिला प्रशासन

Manoj Singh

Leave a Comment

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.