समाचार प्लस
Breaking झारखण्ड फीचर्ड न्यूज़ स्लाइडर

जज उत्तम आनंद मामला: जांच प्रगति पर हाईकोर्ट की सीबीआई को फटकार, एसआईटी को स्पेसिफिक रिपोर्ट का निर्देश

न्यूज डेस्क/ समाचार प्लस – झारखंड-बिहार

धनबाद के जज उत्तम आनंद की संदिग्ध मौत के मामले में सुनवाई करते हुए हाई कोर्ट ने सीबीआई के द्वारा अदालत को सौंपी गयी प्रगति रिपोर्ट पर फटकार लगायी है। अदालत ने कहा कि जांच रिपोर्ट में ‘कुछ भी स्पष्ट’ नहीं है। इसके साथ ही केस की आगे सुनवाई करते हुए अदालत ने सीबीआई एवं राज्य सरकार की ओर से जांच कर रही एसआईटी को अगली सुनवाई में स्पेसिफिक रिपोर्ट शपथ-पत्र के साथ दायर करने का निर्देश दिया है।

सीबीआई ने हाई कोर्ट को  बताया

सुनवाई के दौरान सीबीआई के द्वारा कोर्ट को बताया गया कि मामले में दो आरोपियों के बयान के पूछताछ जारी है। संबंधित लोगों का केस से संबंध नजर आ रहा है, लेकिन कुछ भी कहना जल्दबाजी होगी। ऐसे में अदालत ने अगली सुनवाई में पूरी जानकारी मांगी है।

अब इस मामले में अगली सुनवाई की 21 अक्टूबर को होगी। मामले कि सुनवाई चीफ जस्टिस डॉ रवि रंजन और आज ही हाई कोर्ट में अपर न्यायाधीश की शपथ लेने वाले जस्टिस गौतम कुमार चौधरी ने की।

अन्य मामलों की सुनवाई में भी दिखी नाराजगी

राज्य सरकार के एक अन्य मामले की भी हाईकोर्ट में सुनवाई हुई। बता दें कि अदालत में राज्य सरकार ने अगले 6 महीने में एफएसएल को पूरी तरह से अपग्रेड करने की बात करते हुए प्रति शपथ-पत्र दायर किया था। इसमें कहा गया था कि 6 महीने में फंड रिलीज कर दिया जाएगा। इस पर आज कोर्ट ने नाराजगी जाहिर की थी और सरकार द्वारा दायर प्रति शपथ-पत्र को खारिज कर दिया था।

जेपीएससी, जेएसएससी के रिक्त पदों के भरने का आदेश

जेपीएससी और जेएसएससी में रिक्त पदों को लेकर भी हाईकोर्ट ने नाराजगी जाहिर की। हाईकोर्ट ने कहा है कि कुंभकरण न बनें, हाईकोर्ट के आदेश को गंभीरता से लें और 3 महीने में पूरे खाली पद भरें, अन्यथा कठोर आदेश पारित किया जाएगा।

जज आनन्द मामले में आरोपियों से पूछताछ

हाईकोर्ट के दबाव के बीच धनबाद के जज उत्तम आनंद की मौत के मामले में सीबीआई रांची के होटवार जेल दो दिनों से 5 अपराधियों से पूछताछ की है। शुक्रवार को सीबीआई ने दो आरोपियों से पूछताछ कर लौटी है। इससे पहले गुरुवार को भी बिरसा मुंडा जेल होटवार में बंद रंजय सिंह हत्याकांड के आरोपी नंद कुमार सिंह उर्फ मामा से घंटों पूछताछ की गयी थी। बता दें, जज उत्तम आनंद की अदालत में रंजय सिंह हत्याकांड की सुनवाई लंबित थी। झरिया के पूर्व विधायक संजीव सिंह के करीबी माने जाने वाले रंजय सिंह की हत्या के आरोप में मामा जेल में बंद है।

यह भी पढ़ें: पूर्व सीएम बाबूलाल के सलाहकार सुनील तिवारी को हाईकोर्ट से जमानत, मामला यौन शोषण का

Related posts

World Heart Day: भूलेगा दिल जिस दिन हमें…, वो दिन जिंदगी का …

Manoj Singh

Price Explosion: दिवाली से पहले फूटा महंगाई का बम, Petrol-Diesel, LPG सिलेंडर के दामों में वृद्धि 

Manoj Singh

इस Swimsuit में Malaika नजर आ रहीं हैं बेहद ग्लैमरस, User ने लिखा- नोरा तो यूं ही बदनाम है….

Khusboo Kumari

Leave a Comment

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.