समाचार प्लस
Breaking झारखण्ड फीचर्ड न्यूज़ स्लाइडर

Jharkhand: सरस मेले की शुरुआत कर बोले सीएम हेमंत, स्वदेशी वस्तुओं को दिलानी है अंतरराष्ट्रीय पहचान

Jharkhand: Hemant said in the Saras fair, indigenous goods have to be given international recognition

राष्ट्रीय खादी एवं सरस महोत्सव का किया उद्घाटन

न्यूज डेस्क/ समाचार प्लस – झारखंड-बिहार

मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने बुधवार को 12 दिवसीय राष्ट्रीय खादी एवं सरस महोत्सव का शुभारंभ किया गया। महोत्सव के उद्घाटन में सांसद संजय सेठ ,महुआ माजी रांची के विधायक सीपी सिंह सहित अन्य गणमान्य लोग उपस्थित रहे आए सभी गणमान्य अतिथियों को स्मृति चिह्न प्रदान किया गया।

महोत्सव कार्यक्रम में उपस्थित लोगों को संबोधित करते हुए झारखंड मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने कहा कि लंबे समय अंतराल के बाद यह खादी महोत्सव आयोजित हुई है। वैश्विक महामारी के कारण कई सारे उत्सव महोत्सव के साथ सभी चीजें बाधित रही और अब जगजीवन धीरे-धीरे सामान्य हो रहा है। उसी क्रम में आज यह महोत्सव फिर से जोश नई उमंग के साथ राज्यवासियों के समक्ष आया है। 12 दिवसीय यह मेला के आयोजन के पीछे का उद्देश्य इस मेले के नाम से ही प्रतीत होता है। राष्ट्रपिता महात्मा गांधी के नाम के साथ उनके सोच और विचार के अनुरूप खादी ग्राम उद्योग देश और राज्य में कैसे बढ़ावा मिले और यह उद्योग किस प्रकार एक बड़े उद्योग के रूप में अपना स्थान बनाए। पूरे राज्य वासी इस मेले का आनंद लेते हुए मेले के माध्यम से बड़े पैमाने पर आर्थिक गतिविधियों को मजबूत करें और ग्रामीण क्षेत्र के निर्मित वस्तुओं का खरीदारी कर उन्हें प्रोत्साहित करें।

मुख्यमंत्री हेमन्त सोरेन ने कहा कि राज्य सरकार का निरंतर प्रयास रहा है कि स्वदेशी वस्तुओं को अंतरराष्ट्रीय पहचान दिलाई जाए। राष्ट्रीय खादी एवं सरस महोत्सव आयोजित करने का उद्देश्य यही है कि क्षेत्रीय कारीगरों को “हम किसी से कम नहीं” दिखाने का मंच प्रदान किया जाए।

इस अवसर पर श्रम नियोजन एवं प्रशिक्षण विभाग के मंत्री सत्यानंद भोक्ता, महापौर रांची आशा लकड़ा, सांसद संजय सेठ, राज्यसभा सांसद महुआ माजी, विधायक रांची सीपी सिंह, मुख्य सचिव सुखदेव सिंह, प्रधान सचिव कार्मिक विभाग वंदना दादेल, मुख्यमंत्री के सचिव विनय कुमार चौबे, ग्रामीण विकास विभाग के सचिव प्रशांत कुमार सहित अन्य वरीय पदाधिकारी एवं बड़ी संख्या में लोग उपस्थित थे।

यह भी पढ़ें: Jharkhand: ‘झारखंड संयुक्त सिविल सेवा परीक्षा नियम 2021’ की समीक्षा के लिए समिति गठित

Related posts

हजारीबाग में होटल के चौथे मंजिल से फ़िल्मी अंदाज़ में गिरे युवक-युवती, युवक की मौत, जानिए पूरा मामला

Sumeet Roy

 OBC Reservation के फेर में न फंस जाये झारखंड पंचायत चुनाव, सुप्रीम कोर्ट में कल है सुनवाई

Pramod Kumar

UIDAI ने वेरिफिकेशन चार्ज में की भारी कटौती, जानें-अब कितना लगेगा?

Manoj Singh