समाचार प्लस
Breaking देश फीचर्ड न्यूज़ स्लाइडर

Guna Case: पुलिस ने ढेर किए 2 आरोपी, पिता ने खोले ये राज

Guna Case:  मध्य प्रदेश में हुए  गुना पुलिसकर्मी हत्याकांड में पुलिस ने 2 आरोपियों को मार गिराया है . शनिवार देर रात तक पुलिस अन्य आरोपियों की भी तलाश करती रही. आरोपियों की  तलाश करने के लिए बिंदौरी गांव में भारी पुलिस फोर्स तैनात है. बताया जाता है कि इस हत्याकांड के मुख्य आरोपी शहजाद ने पुलिस पर करीब 9 बार फायर किए थे. उसके पास लायसेंसी बंदूक थी.

दो लोग मारे गए, दो और गिरफ्तार

गुना एसपी का कहना है कि चार की जगह दो लोग मारे गए हैं. दो और लोगों को गिरफ्तार किया गया है. तीन अन्य आरोपी फरार हैं. आरोपियों की सर्चिंग जारी है. एक शख्स कल के एनकाउंटर में मारा गया. वहीं, आरोपियों की तलाश बड़ी तेजी से की जा रही है. दूसरी ओर, इस हत्याकांड पर गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा ने कहा है कि इसमें किसी दोषी को नहीं छोड़ा जाएगा. जिन्होंने ऐसे अपराधियों को संरक्षण दिया है, उनकी भी जांच की जा रही है.

शहजाद ने किए थे लायसेंसी बंदूक से फायर

फिलहाल आरोपियों की तलाश में पुलिस सर्चिंग लगातार जारी है। आरोपियों के गांव बिंदौरी में भारी पुलिस बल तैनात है। इससे पहले शनिवार तड़के हुए एनकाउंटर में पुलिस की जवाबी कार्रवाई में गोली लगने से नौशाद नाम का आरोपी मारा गया था। नौशाद और मुख्य आरोपी शहजाद भाई है। शहजाद ने पुलिस की टीम पर 8-9 फायर किए थे। बताया जा रहा है कि उसने लायसेंसी बंदूक से गोलियां चलाई थी। गृहमंत्री नरोत्तम मिश्रा ने मुख्य आरोपी शहजाद के एनकाउंटर की पुष्टि की है। उन्होंने कहा कि अपराधियों का राजनीतिक संरक्षण भी जांच का बिंदु है। इससे पहले पुलिस ने नौशाद मेवाती नाम के शिकारी को एनकाउंटर में मार गिराया था। पुलिस ने हिरासत में लिए आरोपी नौशाद के पिता को रिहा कर दिया है। नौशाद के पिता ने पुलिस को बताया कि उसके सीने में गोली लगी थी। वह सुबह नग्न हालात में घर पहुंचा था।

साथियों के साथ शिकार पर निकले थे शहजाद और नौशाद

गुना में 3 पुलिसकर्मियों की हत्या के मुख्य आरोपी शहजाद के पिता निसार ने बताया कि उनके दो बेटे शहजाद और नौशाद हैं। शनिवार को शहजाद की बेटी की शादी थी। देर रात तक घर के सभी सदस्य डांस करते रहे। रात करीब 10 बजे शहजाद अपने छोटे भाई नौशाद और साथियों को लेकर जंगल में शिकार करने गए थे। दोनों भाई शौकिया शिकार करते थे।

लायसेंसी बंदूक से किया था पुलिस पर हमला

शिकारियों को पकड़ने गई आरोन थाने की पुलिस पार्टी पर गोली शहजाद ने चलाई थी। शहजाद के पिता निसार ने बताया कि वह घर से जब शिकार करने निकला था, तब अपनी लायसेंसी बंदूक साथ लेकर गया था। शहजाद ने पुलिस पर उसी लायसेंसी बंदूक से गोली चलाई थी।

मेहमानों को मीट परोसा जाना था, उसी के लिए किया था हिरणों का शिकार 

इधर इस पूरी घटना के बाद शनिवार को आरोपी नौशाद की भजीती का निकाह नहीं हो सका। बारात भी नहीं पहुंची। बताया जा रहा है कि आरोपी शहजाद और नौशाद समेत उनके साथियों ने निकाह में आने वाले बारातियों के स्वागत के लिए काले हिरण और मोर का शिकार किया था। मेहमानों को मीट परोसा जाना था। उसी के लिए शिकारियों ने काले हिरणों का शिकार किया था। रात में इन्हें लाते समय उनकी पुलिस से मुठभेड़ हो गई, जिसमें नौशाद नाम का आरोपी मारा गया। वहीं, तीन पुलिसकर्मी भी शहीद हो गए। घटना शनिवार तड़के 3 से 4 बजे के बीच की बताई जा रही है। पुलिस की जवाबी फायरिंग में शिकारी नौशाद मेवाती मारा गया। शहीद SI राजकुमार जाटव ने शहादत से पहले हाथ में गोली लगने के बाद भी कई राउंड फायर किए थे। एनकाउंटर के बाद प्रशासन ने बिंदौरी गांव में आरोपियों के घर भी ढहाए है।

तीन पुलिसकर्मी हुए शहीद

SP का कहना है कि सगा बरखेड़ा की तरफ से बदमाशों के जाने की सूचना मिली थी। इनकी घेराबंदी के लिए 3-4 पुलिस टीम लगाई गई थीं। शहरोक के जंगल में 4-5 बाइक से बदमाश जाते हुए दिखे। पुलिस ने घेराबंदी की तो उन्होंने फायरिंग शुरू कर दी। पुलिस ने भी जवाबी फायरिंग की। हमले में सब इंस्पेक्टर राजकुमार जाटव, आरक्षक नीरज भार्गव और आरक्षक संतराम ने मौके पर ही दम तोड़ दिया। शिकारियों के पास से पांच हिरण और एक मोर के अवशेष जब्त किए हैं।

आरोपियों के घरों पर बुलडोजर चला

एक तरफ जहां प्रशासन ने बिदोरिया गांव में पहुंचकर आरोपियों के घरों पर बुलडोजर चला कर उनको जमींदोज कर दिया। वहीं पुलिस ने एक-एक करके आरोपियों को पकड़ने के प्रयास भी तेज कर दिए हैं ।

ये भी पढ़ें : गुना पुलिसकर्मी हत्याकांड का एक और आरोपी ढेर:पहाड़ पर छिपे दूसरे शिकारी शहजाद को भी मार गिराया

Related posts

Covid-19: हो जाइये सावधान, बड़ों ही नहीं, अब बच्चों को भी अपनी चपेट में लेने लगा है Corona

Pramod Kumar

मोदी की विदेश नीति के दीवाने हुए Putin, कहा- देशभक्त हैं पीएम मोदी, आने वाला भविष्य भारत का है

Manoj Singh

Bihar: गिद्ध के शरीर पर लगा चिप देख हड़के वन अधिकारी, फिर क्या हुआ?

Pramod Kumar