समाचार प्लस
Breaking गुमला झारखण्ड फीचर्ड न्यूज़ स्लाइडर

जहां ललगता था नक्सलियों का जनता दरबार, वहीं आम जनता के बीच सोशल पुलिसिंग के तहत पहुंची गुमला पुलिस

Gumla Police

गुमला से अजीत सोनी की रिपोर्ट

Gumla Police: गुमला जिला में नक्सलियों का गढ़ कहलाने वाले चैनपुर प्रखण्ड के कुरुमगढ़ थाना क्षेत्र इलाके के सिविल गाँव के जिन घनी जंगलों के बीच दिनदहाड़े गोलियों की तड़तड़ाहट और बम की धमाके गूंजती थी, वही पुलिस और भागपा माओवादी नक्सली के बीच आये दिन मुठभेड़ के कारण गांव के ग्रामीण अक्सर डरे सहमे रहते थे। साथ ही नक्सलियों के खौफ ग्रामीण लोगो मे बना रहता था। जिसको लेकर पुलिस को देखते ही गांव के लोग अपने घरों के दरवाजे बंद कर लिया करते थे।

आज उसी सिविल गांव के इलाके में पुलिसिया कैम्प का आयोजन किया गया है। जिसमे हजारों की शंख्या में गांव के ग्रामीणों की मौजूदगी एक अलग रोमांचकारी तस्वीर बयां कर रही थी। गाजे बाजे और सांस्कृतिक कार्यक्रम के बीच कम्युनिटी पुलिसिंग का बेहतर नजारा गुरुवार को देखने को मिला। इस दौरान एस पी एहतेशाम वकारीब ओर सी आर पी एफ 218 के कमांडेंट समादेष्टा अनिल मिंज अभियान एस पी मनीष कुमार और थाने दार सहित सेकड़ो की संख्या में पुलिस और स्कूली बच्चे नागपुरी संगीत पर झूमते नजर आए

बता दें कि सिविक एक्शन प्लान व सोशल पुलिसिंग के तहत गुमला जिला पुलिस व सीआरपीएफ 218 बटालियन ने संयुक्त रूप से निःशुल्क स्वास्थ्य जाँच व दवा वितरण किया साथ ही आम जन असहाय गांव के ग्रामीण के बीच कंबल सोलर रेडियो स्कूल बैग बाल्टी बर्तन और प्रधान मंत्री के द्वारा मनकी बात सुनने और उसका फायदा उठाने को लेकर रेडियो का भी वितरण किया । साथ ही कैम्प में ग्रामीणों के बीच सामूहिक भोज का भी आयोजन किया गया वहीं विशेषज्ञ चिकित्सकों के साथ खुद पुलिस कप्तान डॉ एहतेशाम वकारीब ने ग्रामीणों का ईलाज किया और उनके बीच निःशुल्क दवाईयां को भी वितरण किया ।

इधर हजारों की संख्या में ग्रामीणों की मौजूदगी क्षेत्र में हुए बड़े परिवर्तन का एक नया तस्वीर जो पुलिस और आमजन लोगो मे अहसास को दिला रही थी।

मौके पर एसपी डॉ एहतेशाम वकारीब ने कहा कि नक्सलियों के गढ़ में हम लोगों ने लगातार ऑपरेशन चलाया है। और नक्सलियों को मुख्यधारा में आने अथवा सरेंडर करने को बाध्य किया है उसी का सुखद परिणाम है कि आज ग्रामीणों के बीच भरोसे और विश्वास की पुनर्स्थापना हो सकी है। नतीजा सामने है हम लोगों ने भी क्षेत्र में विकास की रफ्तार को तेज कर यहां के जनजीवन में व्यापक परिवर्तन लाने का निर्णय लिया है और इसकी शुरुआत आज इस प्रकार के सामाजिक आयोजन से हो रही है। निश्चय ही समय के साथ इस सिलसिले को आगे बढ़ाया जाएगा।
वहीं दूसरी ओर आमजनों ने कहा कि पहले पुलिस को देख कर उन्हें डर लगता था। मगर आज पुलिस के द्वारा जो कार्य किया गया उससे लगता है कि पुलिस हमारी मित्र है।

Gumla Police

इसे भी पढ़ें: Jharkhand: पाकुड़ पुलिस को मिली बड़ी सफलता, कार से 25 लाख रूपए जप्त, मामले की जांच में जुटी पुलिस

Related posts

खुशखबरी : नए Battle Royale Games के लिए हो जाइए तैयार, PUBG 2 बेहतर ग्राफिक्स के साथ जल्द हो सकता है रिलीज

Manoj Singh

Viral Video: Javed Habib ने महिला के सिर में थूक लगाकर काटे बाल, कहा ‘इस थूक में दम है’

Manoj Singh

टीवी डिबेट में होता है सबसे ज्यादा प्रदूषण- सुप्रीम कोर्ट

Annu Mahli