समाचार प्लस
Breaking गुमला झारखण्ड फीचर्ड न्यूज़ स्लाइडर

Gumla News: बलि देने के दौरान धारदार हथियार की चपेट में आया मासूम, मौत

image source : social media

Gumla News:  गुमला: जिला के घाघरा थाना क्षेत्र के लालपुर गांव में दुर्गा पूजा के अवसर पर नवमी को गांव के ही मंडप में सार्वजनिक रूप से बकरे की बलि देने के दौरान बलि देने वाला धारदार हथियार टूट कर भीड़ में खड़े 3 वर्षीय बच्चे विमल उरांव को जा लगा, जिससे वह गंभीर रूप से घायल हो गया. घाघरा सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र ले जाने  के दौरान रास्ते में ही बच्चे ने दम तोड़ दिया.

बलुए के बेंत के टूट जाने से हुआ हादसा 

ग्रामीणों ने बताया कि हर साल की भांति इस साल भी गांव के मंडप में बकरा बलि देने की परंपरा सार्वजनिक रूप से निभाई जा रही थी. इसी दौरान दो बकरे की बलि दी जा चुकी थी, तीसरे बकरे की बलि दी जाने लगी तो बलुवा का बेंत टूट गया और भीड़ में खड़े दीपक उरांव के पुत्र 3 वर्षीय विमल के गला में जा लगा.

हॉस्पिटल ले जाने के क्रम में मौत 

विमल को घायल अवस्था में ग्रामीण सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र घागरा ले जा रहे थे, रास्ते में ही उसकी मृत्यु हो गई. जिसके बाद घाघरा थाना को इसकी सूचना दी गई. सूचना के बाद थाना प्रभारी अमित चौधरी गांव में जाकर शव को अपने कब्जे में ले लिया है और पोस्टमार्टम के लिए गुमला सदर अस्पताल भेज दिया.

पूरे गांव में मातम का माहौल

घटना के बाद से पूरे गांव में मातम का माहौल छा गया है. वहीं मृतक की मां बिरसी देवी और पिता दीपक उरांव सहित पूरे परिवार का रो-रोकर बुरा हाल है. थाना प्रभारी अमित चौधरी से पूछे जाने पर उन्होंने कहा कि बहुत ही दुखद घटना हुई है, बलि के दरमियान घटना घटी जिसमें एक बच्चे की मौत हो गई है. पूरे मामले की छानबीन की जा रही है.

ये भी पढ़ें : Dussehra 2022: विजयदशमी पर यहां साल में सिर्फ आज के दिन खुलता है मंदिर, विधि-विधान से रावण की होती है पूजा

Related posts

गणतंत्र दिवस नजदीक आते ही आतंकवादी फिर सक्रिय, दिल्ली में बड़े हमले की साजिश नाकाम!

Pramod Kumar

‘पत्ते को रहने दो, पत्ता न हटाओ, पत्ता जो…, पत्ते की आड़ से क्या कर रही निकिता रावल

Pramod Kumar

Jalpaiguri: शांत नदी में अचानक आया उफान, मूर्ति विसर्जन के दौरान नदी में बहे 40 लोग; 8 की मौत

Manoj Singh