समाचार प्लस
Breaking झारखण्ड देश फीचर्ड न्यूज़ स्लाइडर राँची राजनीति

झारखंड स्थापना दिवस समारोह में नहीं पहुंचे राज्यपाल Ramesh Bais, चर्चाओं का बाजार गर्म

image source : social media

रांचीः झारखंड के 22वें राज्य स्थापना दिवस समारोह में झारखंड में जारी सियासी घमासान का असर दिखा. राज्यपाल रमेश बैस (Governor Ramesh Bais) को इस समारोह में बतौर मुख्य अतिथि शामिल होना था लेकिन वह नहीं पहुंचे। राज्यपाल के नहीं पहुंचने से चर्चाओं का बाजार गर्म हो गया है। कल (सोमवार) तक राज्यपाल रमेश बैस (Governor Ramesh Bais) मोराबादी में आयोजित राज्य स्थापना दिवस समारोह के मुख्य अतिथि थे. इसको लेकर मिनट 2 मिनट कार्यक्रम भी जारी हो चुका था. कार्यक्रम स्थल पर आगमन को लेकर घोषणाएं की जा रही थी. लेकिन मंगलवार को दोपहर 1:00 बजे मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन के मंच पर पहुंचते ही यह कन्फर्म हो गया कि राज्यपाल रमेश बैस (Governor Ramesh Bais) नहीं आ रहे हैं. झारखंड गठन के 22 साल के इतिहास में पहली बार है, जब किसी राज्यपाल ने राजकीय समारोह से दूरी बनाई है.

image source : social media
image source : social media

निशिकांत दुबे ने किया ट्वीट

राज्यपाल के नहींं आने की वजह से कार्यक्रम (Jharkhand Foundation Day program) का पूरा शेड्यूल बदल गया. थोड़ी ही देर में राज्यसभा सांसद शिबू सोरेन (Shibu Soren) को मुख्य अतिथि के रूप में घोषित कर दिया गया. इसी दौरान सांसद निशिकांत दुबे ने एक ट्वीट कर दी. उन्होंने लिखा कि मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन जी की नजर में महामहिम झारखंड के राज्यपाल चपरासी के बराबर हैं. आज स्थापना दिवस है और आज ही उनको निमंत्रण, इतना अहंकार, शब्दों की मर्यादा नहीं. आज अखबार के विज्ञापन में राज्यपाल जी का फोटो नहीं. यह राज्य प्राइवेट लिमिटेड कपनी है और इसके अधिकारी उनके चमचे.

इस कारण मंच से बनाई दूरी!  

अब इस बात को लेकर चर्चा हो रही है कि राज्यपाल क्यों नहीं आये. हालांकि, मोरहाबादी मैदान में आयोजित स्थापना दिवस समारोह में राज्यपाल के शिरकत करने को लेकर पहले से ही शंका थी। कहा जा रहा है कि मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन से जुड़े खनन पट्टा लीज को लेकर ऑफिस ऑफ प्रॉफिट मामले में चुनाव आयोग की चिट्ठी और मनी लाउंड्रिंग तथा अवैध खनन केस में ईडी का समन दो प्रमुख कारण हैं  जिसकी वजह से राज्यपाल ने मंच से दूरी बनाई।

ये भी पढ़ें : ”हिंदू लड़कियों को बहला कर अपने साथ जोड़ना और फिर मार देना, दुर्भाग्यपूर्ण,” लव जिहाद पर Giriraj Singh का बड़ा हमला

 

Related posts

…तो Pregnant हैं महेंद्र सिंह धोनी की पत्नी साक्षी? सोशल मीडिया पर चर्चा तेज

Manoj Singh

Himachal-Uttarakhand के बाद अब Amarnath गुफा के पास फटा बदल, BSF और CRPF के कैंप तबाह

Sumeet Roy

उत्तराखंड विधानसभा चुनाव में दीपिका पांडेय ने ली हार की जिम्मेदारी, अपने पद से दिया इस्तीफा

Sumeet Roy