समाचार प्लस
Breaking झारखण्ड फीचर्ड न्यूज़ स्लाइडर राँची

35 साल बाद अंडमान से झारखंड लौटे श्रमिक फुचा राम, घर वापसी कराने के लिए सीएम हेमंत का जताया आभार

अंडमान से झारखंड वापसी के लिए फुचा राम ने सीएम हेमंत का जताया आभार

न्यूज डेस्क/ समाचार प्लस – झारखंड-बिहार

मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन के प्रयासों से नार्थ और मिडिल अंडमान द्वीप समूह में बंधुवा मजदूर की जिन्दगी जी रहे फुचा राम की 35 वर्षों बाद झारखंड वापसी सम्भव हो पायी है। झारखंड वापसी के बाद गुमला के बिशुनपुर निवासी फुचा राम ने विधानसभा स्थित मुख्यमंत्री कक्ष में मुख्यमंत्री हेमन्त सोरेन से मुलाकात की और उनके प्रति आभार व्यक्त जताया। उन्होंने कहा कि प्रवासी श्रमिकों के प्रति मुख्यमंत्री की संवेदनशीलता की वजह से ही वह 35 वर्ष बाद अपने घर लौट सके। इससे पूर्व तक वह नार्थ और मिडिल अंडमान द्वीप समूह में बंधुवा मजदूर के रूप में काम कर रहे थे।

झारखंड सरकार और  ‘शुभ संदेश फाउंडेशन’ लाये ‘शुभ संदेश’

मालूम हो कि गुमला निवासी फुचा राम के परिजनों ने श्रम विभाग झारखंड सरकार और शुभ संदेश फाउंडेशन के सदस्यों से संपर्क कर फुचा राम की घर वापसी का आग्रह किया। मामले की जानकारी के बाद श्रम विभाग के अधिकारियों और फाउंडेशन के प्रतिनिधियों ने दक्षिणी अंडमान के प्रशासनिक अधिकारियों से संपर्क कर फुचा राम को मुक्त कराया। मुख्यमंत्री ने फुचा राम को सरकार की विभिन्न योजनाओं से आच्छादित करने का निदेश अधिकारियों को दिया है।

यह भी पढ़ें: चिंता: तीसरी लहर आयी तो झारखंड-बिहार बढ़ायेंगे देश की टेंशन, जिम्मेवार होंगे बुजुर्ग

Related posts

हरितालिका तीज: पति की लंबी आयु और सौभाग्य का व्रत, कुंवारी युवतियां भी करती हैं व्रत

Nidhi Sinha

सुप्रीम कोर्ट ने खारिज की JPSC परीक्षा में उम्र सीमा छूट की मांग, झारखंड हाई कोर्ट का फैसला बरकरार

Manoj Singh

Palamu : जमीन विवाद में भाइयों ने दादी व चाचा को टांगी से काटकर मार डाला

Manoj Singh

Leave a Comment

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.