समाचार प्लस
Breaking पटना फीचर्ड न्यूज़ स्लाइडर

दोस्त बने हत्यारे: हत्या करते नहीं कांपे हाथ, पटना और गया में कैसे की गयीं हत्याएं, जानिये वीडियो से

Patna Gaya Murder

बिहार से ब्यूरो रिपोर्ट/ समाचार प्लस – झारखंड-बिहार

दोस्ती चाहे कितनी गहरी हो, लेकिन अगर दोस्त को कोई बात चुभ गयी तो उसे दुश्मन बनते देर नहीं लगती। यहां तक कि वह खून का भी प्यासा हो जाता है। पटना और गया से आयी दो हत्या की घटनाओं से ऐसा निस्संदेह कहा जा सकता है। पटना से दोस्तों द्वारा अपने दोस्त की हत्या का कारण उजागर होना अभी बाकी है, लेकिन गया में दोस्तों ने मिलकर अपने एक दोस्त की हत्या में बड़ी रंजिश ने बड़ा काम किया है। मगर दोस्त दोस्त का हत्यारा हो सकता है, इन घटनाओं से यह बात सच साबित होती है।

पहले पटना में हुई घटना को लेते हैं। पटना से हमारे ब्यूरो रजत राय बताते हैं कि दोस्तों ने ही अपने ही दोस्त की पीट पीटकर हत्या कर दी और शव को नहर में फेंक फरार हो गये। मामला राजधानी पटना से सटे मनेर थाना क्षेत्र का है। इधर घटना की सूचना मिलने के बाद परिजन घटनास्थल पर पहुंचे और तत्काल इसकी सूचना मनेर पुलिस को दी गयी। मनेर पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए दानापुर अनुमंडल अस्पताल भेज दिया है। मृतक युवक की पहचान मनेर थाना क्षेत्र के नीलकंठ टोला निवासी रामचंद्र सिंह का पुत्र अरविंद कुमार के रूप में हुई है। मृतक अरविंद कुमार टेंपो चलाकर परिवार की आजीविका चलाया करता था। अरविन्द की मौत से पूरा परिवार ही टूट गया है।

मृतक के पिता ने बताया कि तीन-चार दोस्त श्राद्ध कर्म से खाना खाकर लौट रहे थे। इसी क्रम में अरविन्द के दोस्तों ने मिलकर उसकी निर्मम हत्या कर दी और शह को नहर में डालकर फरार हो गये हैं। रात में सूचना मिली कि अरविंद कुमार का शव बाजितपुर मोड़ के पास नहर में पड़ा हुआ है जिसके बाद सभी लोग वहां पहुंचे जहां अरविंद कुमार मृत अवस्था में पड़ा हुआ था। फिलहाल, हत्या का कारण स्पष्ट नहीं हो पाया है। इस घटना में एक अन्य दोस्त घायल है जिसका इलाज एक निजी अस्पताल में चल रहा है। उसके होश में आने के बाद पुलिस को हत्याकांड का कोई सुराग मिल सके। परिजन चाहते हैं कि हत्या में जो भी दोषी है कानून उन्हें सजा दे।

क्या कहती है पुलिस?

इस पूरे प्रकरण पर मनेर थाना अध्यक्ष राजीव रंजन ने बताया कि प्रथम दृष्टया सड़क दुघर्टना का लग रहा है, लेकिन मृतक के परिजनों के तरफ से लिखित आवेदन मिला है जिसमें गांव के ही दोस्तों पर हत्या का आरोप लगा है। पुलिस उसके आधार पर आगे कार्रवाई कर रही है। इस घटना में एक अन्य युवक  घायल हुआ जिसका इलाज चल रहा है। उसके होश में आने के बाद मामला स्पष्ट हो पाएगा कि आखिर घटना क्या घटी थी। फिलहाल, शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया है। पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद मामला स्पष्ट होगा कि यह हत्या है या नहीं। साथ ही उन्होंने बताया कि मृतक के परिजनों ने दोस्तों को नामजद किया है जिनकी गिरफ्तारी के लिए पुलिस छापेमारी में जुटी हुई है।

दोस्तों ने दोस्त को उतारा मौत के घाट

दूसरी घटना बिहार के गया की है। गया से हमारे ब्यूरो मनोज कुमार बताते हैं कि वहां दो दोस्तों ने मिलकर अपने तीसरे दोस्त की हत्या, वह भी चाकू से गला रेतकर बड़ी निर्ममता पूर्वक कर दी है। मामला गया के विष्णुपद थाना क्षेत्र के चांद चौरा मोहल्ले का है। पुलिस ने हत्या में शामिल दो लोगों को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है। गिरफ्तार हत्यारे विष्णुपद थाना क्षेत्र के नयी सड़क मोहल्ले के रहने वाले पिंटू कुमार और सूरज रजक उर्फ मंगल रजक हैं। पुलिस ने हत्या में उपयोग में लाये गये चाकू, एक मोबाइल और खून से सने कपड़े बरामद किये हैं।

गया एसपी राकेश कुमार ने बतायी हत्या की वजह

गया के सिटी एसपी राकेश कुमार ने आज बताया कि कड़ी पूछताछ के बाद हत्यारों ने अपने दोस्त की हत्या करने की बात कबूल की और हत्या की वजह भी बतायी। एसपी कुमार ने बताया कि तीनों आपस में जिगरी दोस्त थे, लेकिन इनमें से एक दोस्त की बहन पर एक दोस्त की बुरी नजर थी। इतना ही नहीं, वह अश्लील वीडियो बनाकर अपने दोस्त की बहन को ब्लैकमेल भी किया करता था। इसी बात पर नाराज दोनों दोस्तों ने मिलकर इस दोस्त की गला रेत कर हत्या कर दी।

यह भी पढ़ें: Bokaro: सेक्टर-4 की एक दुकान में लगी भीषण आग, घंटों की मशक्कत के बाद आग काबू में

Related posts

जातीय जनगणना पर एक हो गए नीतीश-तेजस्वी, मुख्यमंत्री पीएम मोदी को लिखेंगे पत्र

Manoj Singh

T20 Ind-NZ: रांची में टीम इंडिया जीत कर मैच करेगी सील या टॉस जीतकर टिम साउदी की टीम बिगाड़ेगी खेल?

Pramod Kumar

अब मैं कांग्रेस में नहीं हूं, चंडीगढ़ वापस लौटकर बोले अमरिंदर, भाजपा में जाने से इनकार

Pramod Kumar

Leave a Comment

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.