समाचार प्लस
Uncategories

Fodder Scam: सोमवार को CBI की स्पेशल कोर्ट सुनाएगी सजा, 7 साल की हो सकती है जेल!

Fodder Scam

पटना से ब्यूरो हेड एसके राजीव की रिपोर्ट 

बहुचर्चित चारा घोटाला (Fodder Scam) मामले में राजद सुप्रीमो के लिए 21 फरवरी का दिन बेहद महत्वपूर्ण होने जा रहा है. सोमवार को सीबीआई की विशेष अदालत डोरंडा ट्रेजरी से 139 करोड़ रुपये की अवैध निकासी के मामले में लालू यादव को सजा सुनाएगी. अदालत ने लालू सहित अन्य दोषियों को 15 फरवरी को ही दोषी करार दिया था, लेकिन लालू की सजा की तारीख 21 फरवरी मुकर्रर की गई थी. अब सोमवार का दिन लालू प्रसाद यादव और उनके परिवार के लिए बहुत बड़ा दिन होगा।

अधिकतम 7 वर्ष तक जेल की सजा हो सकती है

कानून के जानकारों का कहना है कि सोमवार को लालू की जिंदगी की सबसे बड़ा फैसला होगा। लालू को कोर्ट ने जिन धाराओं में दोषी पाया है, उनके हिसाब से लाल को कम से कम एक साल तो ज्यादा से ज्यादा 7 वर्ष तक जेल की सजा हो सकती है. लालू यादव अपनी उम्र के अंतिम पड़ाव में है. अगर उनको सात साल की सजा होती है तो यह पूरे परिवार को मुश्किल भरा हो सकता है.

अपनी तरह का नायाब फर्जीवाड़ा था

1990 से 1992 के बीच डोरंडा ट्रेजरी से फर्जी निकासी का घोटाला हुआ. यह अपनी तरह का नायाब फर्जीवाड़ा था. इसमें अवैध तरीके से पैसे निकालने के लिए पशुओं को वाहनों में ढोने के बिल पास कराए गए. लेकिन जिन वाहनों के नंबर दिए गए थे, जांच में वे स्कूटर या दुपहिया वाहनों के निकले. मामले की सीबीआई जांच के दौरान पता चला कि नेताओं और अफसरों ने मिलकर 400 सांडों को हरियाणा और दिल्ली जैसे शहरों से रांची लाया गया. सरकारी दस्तावेजों में कहा गया कि गायों की बेहतर नस्ल के लिए इन्हें लाया गया है. लेकिन जिन वाहनों पर इन्हें लाना दर्शाया गया, उनके नंबर दोपहिया वाहनों के निकले। इन नंबरों की जांच के लिए देश के 150 परिवहन कार्यालयों से दस्तावेज जुटाए गए.

1996 में दर्ज हुआ था केस

डोरंडा ट्रेजरी केस बहुचर्चित चारा घोटाले में से एक मामला है. 1990-92 के बीच चाईबासा ट्रेजरी से अफसरों और नेताओं ने मिलकर फर्जीवाड़ा करते हुए 67 फर्जी आवंटन पत्र के आधार पर 33.67 करोड़ रुपए की अवैध निकासी की गई थी. इस मामले में 1996 में केस दर्ज हुआ था. इस केस में 10 महिलाएं भी आरोपी है. मामले में चार राजनीतिज्ञ, दो वरीय अधिकारी, चार अधिकारी, लेखा कार्यालय के छह, 31 पशुपालन पदाधिकारी स्तर के और 53 आपूर्तिकर्ता आरोपी बनाए गए हैं. अब मामले में लालू यादव समेत 99 आरोपी हैं जिन्हें अदालत दोषी करार दे चुकी है.

यह भी पढ़ें :Ukraine में एमबीबीएस की पढ़ाई कर रहे बोधगया के दो दर्जन छात्र फंसे, परिजन चिंतित

 

Related posts

T20 Ind NZ: क्या होम ग्राउंड पर दिखेगा ईशान का जलवा, क्या जीत के बाद टीम इंडिया करेगी कोई बदलाव?

Pramod Kumar

पंजाब सरकार की नीयत में खोट! पीएम की सुरक्षा में सेंध मामले पर रिपोर्ट देने में आनाकानी, कर रही पैंतरेबाजी

Pramod Kumar

Tokyo Paralympics: भाविना पटेल का टेबल टेनिस में पदक पक्का, कल गोल्ड पर होगा निशाना, पीएम ने दी बधाई

Pramod Kumar