समाचार प्लस
Breaking देश फीचर्ड न्यूज़ स्लाइडर

इलेक्ट्रिसिटी अमेंडमेंट बिल के खिलाफ दिल्ली में जुटे देशभर के बिजली कर्मी-अभियंता, कहा- बिल मंजूर नहीं

Electricians-engineers from across the country gathered in Delhi against the Electricity Amendment Bill

न्यूज डेस्क/ समाचार प्लस – झारखंड-बिहार

इलेक्ट्रिसिटी (अमेंडमेंट) बिल 2022 और निजीकरण के विरोध में देशभर से बिजली कर्मचारियों और इंजीनियरों ने दिल्ली में विशाल प्रदर्शन कर एक सुर में कहा नया बिल किसी सूरत में मंजूर नहीं। इस प्रदर्शन में देशभर से पहुंचे विद्युत अभियंताओं ने कहा कि सराकर नहीं मानी तो आरपार के संघर्ष से भी पीछे नहीं हटेंगे। बता दें, अखिल भारतीय अभियंता संघ के आह्वान पर बुधवार को सुबह 10:00 बजे से रामलीला मैदान से जंतर-मंतर तक विद्युत कर्मियों और अभियंताओं का प्रदर्शन किया। उन्‍होंने चेतावनी दी है कि सरकार अगर एकतरफा कार्यवाही करेगी तो देशभर के बिजलीकर्मी हड़ताल करेंगे।

विद्युत कर्मियों का यह विरोध प्रदर्शन केन्द्र सरकार के द्वारा लाये गये इलेक्ट्रिसिटी (अमेंडमेंट) बिल 2022 और बिजली विभाग के निजीकरण के खिलाफ था। इसके साथ ही बिजली कर्मचारियों ने पुरानी पेंशन बहाली की मांग भी रखी।

बता दें कि लोकसभा ने इलेक्ट्रीसिटी (अमेंडमेंट) बिल 2022 को संसद की ऊर्जा मामलों की स्टैंडिंग कमेटी को भेजा है। हालांकि स्टैंडिंग कमेटी ने अभी तक बिजली कर्मचारियों और आम उपभोक्ताओं इस पर कोई चर्चा नहीं की है। ऑल इंडिया पावर इंजीनियर्स फेडरेशन ने देश के सभी मुख्यमंत्रियों को पत्र लिखा है जिसमें अपील की गयी है कि ऊर्जा क्षेत्र और बिजली उपभोक्ताओं के व्यापक हित में वे इस बिल का विरोध करें।

यह भी पढ़ें: Corona से 2 साल में भारत में 5.5 लाख हुई थी मौत, 2019 में 5 बैक्टीरिया ले चुके हैं 6.8 लाख की जान

Related posts

CBSE 10th, 12th Board Exams 2023: अगले साल 15 फरवरी से शुरू होंगी बोर्ड की फाइनल परीक्षाएं

Manoj Singh

Jharkhand:  मुख्यमंत्री हेमन्त सोरेन सिरम टोली के केंद्रीय सरना स्थल पर सरहुल कार्यक्रम में हुए शामिल, दीं शुभकामनाएं

Pramod Kumar

Ranchi: कोरोना गाइडलाइंस का किया उल्लंघन तो भारी पड़ जायेगा न्यू ईयर सेलिब्रेशन, डीसी का आदेश

Pramod Kumar