समाचार प्लस
Breaking देश फीचर्ड न्यूज़ स्लाइडर

Election 2022: 10 मार्च से पहले ‘अंडरग्राउंड’ होंगे कांग्रेसी विधायक, कांग्रेस को फिर सता रहा ‘अवैध शिकार’ का डर

Election 2022: Before March 10, Congress MLAs will be 'underground'

न्यूज डेस्क/ समाचार प्लस – झारखंड-बिहार

कहावत है ‘दूध का जला छाछ भी फूंक मार कर पीता है’। यह कहावत कांग्रेस पर पूरी तरह सही बैठती है। इस समय उत्तर प्रदेश, पंजाब समेत पांच राज्यों में विधानसभा चुनाव चल रहे हैं। 7 मार्च को विधानसभा चुनावों का अंतिम चरण है। इसके बाद 10 मार्च को इन चुनावों के नतीजे आ जायेंगे। जैसे-जैसे नतीजे आने का दिन नजदीक आ रहा है, कांग्रेस की धड़कनें तेज होती जा रही हैं। इस लिए नहीं कि चुनाव में उसके पक्ष में नतीजे क्या आयेंगे, बल्कि इसलिए कि पिछले विधानसभा चुनावों में उसके साथ जो हुए हैं, वह एक बार फिर न हो जाये। कांग्रेस पांच राज्यों- उत्तर प्रदेश, उत्तराखंड, गोवा, पंजाब और मणिपुर के नतीजों के बाद अपने विधायकों का ‘अवैध शिकार’ होने के डर से डरी हुई है।

कांग्रेस इसकी रणनीति अभी से बनाने लगी है। समझा जा रहा है कि इसी को लेकर रविवार को राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने राहुल गांधी, प्रियंका गांधी और के.सी. वेणुगोपाल से नयी दिल्ली में मुलाकात की। इसमें छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल भी शामिल हुए। हालांकि सीएम गहलोत कह रहे हैं कि कांग्रेस नेताओं से उनकी यह औपचारिक मुलाकात मुलाकात है, लेकिन चर्चा है कि राज्यों के विधानसभा चुनाव परिणामों की घोषणा के बाद की रणनीतियों पर कांग्रेस अपना ध्यान केंद्रित कर रही है।

कांग्रेस इससे पहले भी ऐसा कर चुकी है। गुजरात, मध्यप्रदेश और महाराष्ट्र के विधानसभा चुनावों के बाद कांग्रेस ने अपने विधायकों को विपक्ष के अवैध शिकार के डर से कहीं स्थानांतरित कर दिया था। कांग्रेस असम में भी ऐसा कर चुकी है।

यह भी पढ़ें: Ukraine Crisis: भारतीयों को शीघ्र वापस लाने का नया प्लान, पीएम मोदी चार केन्द्रीय मंत्रियों को भेज रहे पड़ोसी देश

Related posts

Tribute to CDS: पीपल के पत्ते पर बिपिन रावत का अक्स उकेर कर दी अनोखी श्रद्धांजलि

Pramod Kumar

अफगानिस्तान में तालिबान की वापसी से इमरान सरकार और आईएसआई के खिलाफ गुस्सा

Pramod Kumar

मोदी ने बदली एक और परम्परा: सुभाष जयंती से अब शुरू होगा गणतंत्र दिवस समारोह

Pramod Kumar